घर घुसकर नाबालिग से छेड़छाड़ के आरोपित को तीन वर्ष का सश्रम कारावास

घर घुसकर नाबालिग से छेड़छाड़ के आरोपित को तीन वर्ष का सश्रम कारावास
three-years-rigorous-imprisonment-for-accused-of-tampering-with-minor-by-entering-home

अनूपपुर, 24 मार्च (हि.स.)। विशेष न्यायाधीश (पॉक्सो) भूपेन्द्र नकवाल अनूपपुर की न्यायालय ने आरोपित 27 वर्षीय अविनाश उर्फ पल्लेदार पुत्र जमुना बैगा निवासी ग्राम पटना, थाना चचाई को नाबालिग से छेड़छाड़ के अपराध में 3 वर्ष का सश्रम कारावास व 12 हजार रुपये अर्थदण्ड की सजा सुनाई है। आरोपित के विरुद्ध थाना चचाई में मुकदमा दर्ज था। पैरवी जिला अभियोजन अधिकारी एवं विशेष लोक अभियोजक रामनरेश गिरि ने की। मीडिया प्रभारी एवं अभियोजन अधिकारी राकेश कुमार पाण्डेय ने बुधवार को बताया कि 10 जुलाई 2019 को पीडि़त के माता -पिता दूसरे गांव गए हुए थे और वह छोटे भाई-बहन के साथ घर पर सो रही थी, आरोपित रात करीब डेढ़ बजे पीछे का दरवाजा तोडक़र घर में घुस गया और घर में जलते हुए बल्ब को निकाला फिर बुरी नियत से पीडि़त नाबालिग का हाथ पकड़कर बोला चिल्लायेगी तो गला दबा दूंगा। पीडि़त ने हाथ छुड़ाते हुए उसके बडे माता-पिता को चिल्लाकर बुलाया तो अभियुक्त पीछे के दरवाजे से निकलकर भाग गया। अगले दिन थाना चचाई में घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई, पुलिस ने अपराध दर्ज कर अभियुक्त को गिरफ्तार किया एवं सम्पूर्ण विवेचना उपरांत न्यायालय में पेश किया, जहां जिला अभियोजन अधिकारी द्वारा पैरवी की गई। अभियोजन अधिकारी द्वारा कराये गए साक्षियों के कथन व साक्ष्य के आधार पर न्यायालय ने सहमत होते हुए अभियुक्त को दोषी पाते हुए सजा सुनाई। हिन्दुस्थान समाचार/ राजेश शुक्ला

अन्य खबरें

No stories found.