पैसे की जरूरत होने पर गाड़ी का नंबर प्लेट बदलकर लूटपाट करने वाले तीन बदमाश गिरफ्तार

पैसे की जरूरत होने पर गाड़ी का नंबर प्लेट बदलकर लूटपाट करने वाले तीन बदमाश गिरफ्तार
three-miscreants-arrested-for-looting-by-changing-the-number-plate-of-the-vehicle-in-case-of-need-of-money

नई दिल्ली, 01 अप्रैल (हि.स.)। बाहरी जिले के रणहौला इलाके में पैसे की जरूरत होने पर गाड़ी का नंबर प्लेट बदलकर लूटपाट करने वाले तीन बदमाशों को रणहौला थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बदमाशों के कब्जे से कार बरामद की है। आरोपित कार चालक है और अपनी कार को गुरुग्राम के एक निजी कंपनी में किराए पर चलाता है। आरोपित अपने साथियों के साथ मिलकर एक युवक को कार में लिफ्ट दी और रास्ते में उसका गला दबाकर उससे लूटपाट कर फरार हो गया। बाहरी जिले के डीसीपी परमिंद्र सिंह ने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों की पहचान बाबा हरिदास नगर निवासी विशाल दलाल, घेवरा गांव निवासी अमरदीप और जितेंद्र के रूप में हुई है। ढांसा निवासी विरेंद्र ने मंगलवार सुबह पुलिस को लूटपाट की शिकायत की। उसने बताया कि वह मंगोलपुरी के एक निजी कंपनी में काम करता है। सुबह छह बजे वह घर जाने के लिए निकला। पीरागढ़ी में एक चालक ने दस रुपये में उसे नजफगढ छोडऩे की बात कहकर कार में बिठा लिया। कार की पिछली सीट पर पहले से दो सवारी मौजूद थे। रणहौला नाला के पास पीछे बैठे बदमाशों ने उसका गला दबा दिया और उसका मोबाइल और पैसे लूट लिए। शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। थाना प्रभारी विमल कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम ने सीसीटीवी कैमरे को खंगाला। जिसमें कार का नंबर मिल गया। लेकिन जांच में पता चला कि नंबर फर्जी है। उसके बाद पुलिस ने अपने मुखबिरों से उस कार के बारे में पता लगाया। जिससे पता चला कि कार को विशाल चलाता है। पुलिस ने विशाल को गिरफ्तार कर पूछताछ की। जिसमें उसने अपराध स्वीकार कर लिया। उसने बताया कि उसने फर्जी नंबर प्लेट लगाकर वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस ने उसके निशानदेही पर दो अन्य साथियों को गिरफ्तार कर लिया। विशाल ने पूछताछ में बताया कि कार उसके पिता के नाम पर रजिस्टर है और गुरुग्राम के एक निजी कंपनी में किराए पर चलता है। पैसे की जरूरत होने पर उसने कार में फर्जी नंबर प्लेट लगाकर वारदात को अंजाम दिया और फरार हो गया था। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी

अन्य खबरें

No stories found.