three-arrested-for-cheating-in-the-name-of-fake-call-center
three-arrested-for-cheating-in-the-name-of-fake-call-center
क्राइम

फर्जी कॉल सेंटर के नाम पर ठगी करता हुआ तीन गिरफ्तार

news

नई दिल्ली, 23 फरवरी(हि.स.)। राजधानी दिल्ली की उत्तर पश्चिमी जिले की साइबर सेल ने फर्जी कॉल सेंटर के जरिए नामी कंपनियों में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सभी आरोपी अमेजन सहित अन्य बड़ी कंपनियों में नौकरी दिलाने का झांसा देकर ठगी करते थे। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपितों के पास से छह मोबाइल फोन जब्त किए हैं। उनकी पहचान जहांगीरपुरी निवासी हेमंत, किशन चंद और नत्थूपुरा निवासी विरेंद्र यादव के रूप में हुई है। जिला पुलिस उपायुक्त उषा रंगनानी ने बताया कि 18 फरवरी को मुखर्जी नगर निवासी नितिश गुप्ता ने ठगी की शिकायत की थी, जिसमें शिकायतकर्ता ने बताया कि उसने अमेजन कंपनी में फील्ड ब्वॉय की नौकरी के लिए आवेदन किया था। एक दिन किसी व्यक्ति का फोन आया, जिसने खुद को अमेजन कंपनी का मैनेजर बताया। उसने बताया कि आवेदन को स्वीकार कर लिया गया है। उसने व्हाट्स-एप्प पर नितिश के दस्तावेज मंगवाए और फोन के जरिए साक्षात्कार किया। इसके बाद आरोपितों ने नितिश से दस्तावेज वेरिफिकेशन के बहाने एक हजार रुपये, यूनिफार्म के लिए 2,500 रुपये और लैपटॉप सिक्योरिटी के लिए 5,000 हजार रुपये कोटक महिंद्रा बैंक के खाते में डलवाए। सारी रकम खाते में डालने के बावजूद रुपये की मांग हुई तो नितिश को ठगी का अंदेशा हुआ। फिर उसने जहांगीरपुरी थाने में इसकी शिकायत दर्ज करवाई। साइबर सेल के निरीक्षक वरुण दलाल के नेतृत्व में पुलिस टीम ने जांच शुरू की। इस दौरान पुलिस ने आरोपितों के बैंक खातों की जांच और उनके फोन डिटेल खंगाले, जिसके बाद पुलिस ने स्वरूप नगर से तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। तीनों स्वरूप नगर में कॉल सेंटर चलाकर वारदात को अंजाम दे रहे थे। पूछताछ में पता चला है कि आरोपित विरेंद्र को रुपयों की जरूरत थी। इसलिए उसने अपने दोस्तों के साथ मिलकर ठगी की वारदात को अंजाम देने लगा। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी