बैंक घोटाले के मुख्य आरोपी समेत परिजनों के खाते फ्रीज खाते में है बासठ लाख रुपये :एसपी

बैंक घोटाले के मुख्य आरोपी समेत परिजनों के खाते फ्रीज खाते में है बासठ लाख रुपये :एसपी
there-is-sixty-two-lakh-rupees-in-the-frozen-account-of-the-family-members-including-the-main-accused-of-the-bank-scam-sp

बक्सर 08 जून (हि.स.)। बक्सर स्थित दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक (आशापडरी शाखा ) में एक करोड़ नौ लाख रुपये के गबन के मुख्य आरोपी बर्खास्त पूर्व प्रबंधक रविशंकर को प्राथमिकी के महज बहत्तर घंटे के अंतराल में पटना से गिरफ्तार कर बक्सर लाये जाने के बाद बीती रात एक अन्य अभ्युक्त को भी गिरफ्तार किया गया है। पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार ने मंगलवार को बताया की मुख्य आरोपी पूर्व प्रबंधक ने बासठ लाख रुपये अपने रिश्तेदारों के एकाउंट में ट्रांसफर किया है जिनमे चालीस लाख रुपये एक व्यक्ति के खाते में ही पाए गये है।जिससे पूछताछ जारी है।एसपी ने बताया की चालीस लाख रुपये को लेकर संतोष जनक उत्तर ना मिलने पर इनकी गिरफ्तारी तय है। सट्टे बाजार का शौकीन मुख्य आरोपी पूर्व प्रबंधक रविशंकर ने रुपये यहा भी फंसाए हुए है। यह राशि कितनी है इसकी तहकीकात जारी है।घोटाले की परत खुलने के बाद पुलिस जल्द ही कुछ और लोगो को गिरफ्तार कर सकती है। सूत्रों के अनुसार पुलिस आरोपी पूर्व प्रबंधक की पत्नी और करीबी रिश्तेदारो के खाते पर भी नजर गड़ए हुए है। पुलिस सूत्रों के अनुसार बैंक से जप्त कागजातों का गहन मुआयना किया जा रहा है।तत्काल पुलिस जप्त किये गये बासठ लाख रुपये को फ्रिज करने हेतु बैंक नियमानुकूल कारवाई शुरू कर दी है। बैंक घोटाले से प्रभावित पीड़ित ग्रामीण खाताधारकों के चेहरे पर इस बात का सकून है कि रुपये बरामद होने के बाद सम्भव है जल्द ही उन्हें उनका पैसा मिल जाए। हिन्दुस्थान समाचार /अजय मिश्रा