बच्चे को भारी पड़ा जामुन के पेड़ पर उछाला गया पत्थर, मिली अमानवीय सजा

बच्चे को भारी पड़ा जामुन के पेड़ पर उछाला गया पत्थर, मिली अमानवीय सजा
the-stone-thrown-on-the-jamun-tree-fell-on-the-child-got-inhuman-punishment

— पुलिस की कस्टडी में बच्चे का अस्पताल में चल रहा है इलाज कानपुर, 16 जून (हि.स.)। खेल—खेल में बच्चे आपस में अक्सर झगड़ा कर लेते हैं और फिर दोस्ती भी कर लेते हैं, लेकिन कानपुर के एक गांव में ऐसा मामला सामने आया है जिसको देख सभी की रुह कांप उठी। बच्चे का कसूर यह था कि दोस्त के साथ जामुन तोड़ने गया था और जामुन तोड़ने के लिए उछाला गया पत्थर दोस्त को लग गया। इस पर आरोप के मुताबिक दोस्त के पिता ने ऐसी सजा दी कि शायद ही बच्चा कभी भूल पाये। हालांकि मामले की जानकारी पर पुलिस ने बच्चे को अपनी कस्टडी में लिया और अस्पताल में उसका इलाज करा रही है, फिलहाल डरा सहमा बच्चा अभी कुछ बोलने की स्थिति में नहीं है। बिल्हौर के ककवन थाना क्षेत्र के फत्तेपुर गांव निवासी राम प्रकाश राठौर का 12 वर्षीय पुत्र रमन मंगलवार की शाम अपने दोस्त कमल किशोर के साथ गांव के बाहर जामुन तोड़ने गया था। ग्रामीणों के मुताबिक दोनों पेड़ से जामुन तोड़कर खा रहे थे, इसी बीच रमन ने जामुन तोड़ने के लिए पेड़ पर पत्थर उछाला और पेड़ से टकराकर पत्थर फिर वापस कमल किशोर के जा लगा। इससे कमल किशोर के सिर पर चोट लग गई और खून बहने की जानकारी पर परिजन पहुंच गये। परिजनों ने जख्मी कमल किशोर को इलाज के लिए अस्पताल ले गये। खून देख बौखला गया पिता ग्रामीणों के अनुसार जब कमल किशोर के पिता राजू को जानकारी हुई कि बेटे के सिर पर चोट लग गई तो वह बौखला गया। पहले तो राम प्रकाश के घर पर जाकर गाली गलौज की, फिर यह भी कहा कि खून का बदला खून से लिया जाएगा। आरोप है कि देर रात राजू ने रमन को पकड़ लिया और गांव के बाहर एक सूनसान जगह पर निर्माणाधीन मकान पर ले गया। आरोप के मुताबिक राजू ने रमन के साथ जमकर मारपीट की और रात के अंधेरे में मकान के पिलर में बांध दिया। यह भी धमकी दी कि अगर मुंह खोला तो जान से मार दिया जाएगा। इस पर रात के अंधेरे में रमन डर से कांपता रहा। आधी रात रास्ते से गुजरे ग्रामीणों को बच्चे के रोने की आवाज सुनाई दी तो ग्रामीणों के कदम ठिठक गए। आवाज की दिशा में ग्रामीण पहुंचे तो नजारा देखकर उनकी भी रुह कांप गई। इसके बाद ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने रमन को बंधन मुक्त किया। थाना प्रभारी संतोष कुमार ओझा ने बुधवार को बताया कि बच्चे का अस्पताल में इलाज चल रहा है और घटना की जानकारी जुटाई जा रही है। बच्चा अभी बहुत डरा व सहमा हुआ है और कुछ सही बता नहीं पा रहा है। फिलहाल पूछताछ की जा रही है और तहरीर मिलने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/अजय

अन्य खबरें

No stories found.