शराब विक्रेता से बाबा बना अपराधी दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ा

 शराब विक्रेता से बाबा बना अपराधी दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ा
the-criminal-turned-from-a-liquor-seller-was-caught-by-the-delhi-police

नई दिल्ली, 18 नवंबर (आईएएनएस)। दिल्ली पुलिस ने एक भगोड़े अपराधी को गिरफ्तार किया है, जो अदालत की सुनवाई में शामिल नहीं हुआ और भागकर पुजारी बन गया था। एक अधिकारी ने गुरुवार को यहां यह जानकारी दी। अधिकारी के मुताबिक, दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने इलाके में घोषित (भगोड़ा) अपराधियों (पीओ) का पता लगाने के निर्देश जारी किए थे। इसके बाद सभी पीओ के बारे में जानकारी जुटाने के लिए एक पुलिस टीम का गठन किया गया था। जफरपुर कलां के एसएचओ गिरीश कुमार सिंह ने कहा, पिछले रिकॉर्ड की जांच की गई, तदनुसार मुखबिरों को जागरूक किया गया और मैन्युअल प्रयास किए गये। बुधवार को अजीत नाम के एक पीओ के संबंध में विशेष जानकारी मिली। इस गुप्त सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिस की एक टीम ने जाल बिछाकर रात नौ बजे शहर के अपने डाबर एन्क्लेव, रावता मोड़, जाफरपुर कलां से 45 वर्षीय आरोपी को पकड़ लिया। आरोपी अजीत को सितंबर में एक स्थानीय अदालत ने दिल्ली आबकारी अधिनियम की धारा 33 के तहत उसके खिलाफ दर्ज प्राथमिकी में भगोड़ा घोषित किया था। पुलिस ने कहा कि आरोपी ने अपने पैतृक गांव में सातवीं कक्षा तक पढ़ाई की और बाद में दिल्ली चला गया, जहां उसने बस कंडक्टर के रूप में काम करना शुरू किया। आरोपी शराबी था और उसने 2017 और 2018 में दिल्ली आबकारी अधिनियम के तहत दो प्राथमिकी दर्ज कराई थी। पुलिस ने कहा, अब वह एक पुजारी बन गया है। घूमता रहता है और दिल्ली-एनसीआर के विभिन्न मंदिरों में रहता है। वह दी गई तारीखों पर अदालतों में हाजिर नहीं हुआ और उसे पीओ घोषित कर दिया गया था। पुलिस ने कहा कि आरोपी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू की जाएगी। --आईएएनएस एचके/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.