राजपार्क हत्याकांड में फरार हत्यारा गिरफ्तार

राजपार्क हत्याकांड में फरार हत्यारा गिरफ्तार
the-absconding-killer-arrested-in-the-rajpark-murder-case

नई दिल्ली, 17 मई (हि.स.)। बाहरी जिले के राजपार्क इलाके में रविवार दोपहर अजीत नामक व्यक्ति की चाकू घोंपकर निर्मम हत्या हुई थी। जिसमे पुलिस ने कुछ ही घंटे बाद रेशमा नाम की महिला को गिरफ्तार किया था। जबकि रेशम का पति वारदात के बाद से ही फरार था। जिसको रोहिणी जिला स्पेशल स्टॉफ ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित की पहचान जितेंद्र के रूप में हुई है। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल चाकू और खून लगे कपड़े भी जब्त कर लिया हैं। डीसीपी उपायुक्त प्रणव तयाल ने सोमवार को बताया कि रविवार दोपहर पौने तीन बजे पी ब्लॉक बाल्मीकि मंदिर के पास युवक को चाकू मारने को सूचना मिली थी। कॉलर विजयपाल ने बताया कि उसके बेटे अजीत को किसी ने चाकू मार दिया है। वह संजय गांधी अस्पताल में गंभीर हालत है। पुलिस अस्पताल पहुंची। डाक्टरों ने अजीत को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया। इधर एसएचओ अशोक कुमार की देखरेख में पुलिस टीम को आरोपितों को पकड़ने का जिम्मा सौंपा गया। शुरुआती जांच में राजपार्क पुलिस ने रेशमा नाम की महिला को गिरफ्तार किया। जिसका पति वारदात के बाद फरार हो गया था। वहीं रोहिणी जिला की स्पेशल स्टाफ में तैनात इंस्पेक्टर ईश्वर सिंह की टीम इलाके में बदमाशों पर नज़र रखने के लिए गश्त कर रही थी। पुलिस टीम को जितेंद्र के मच्छी मार्केट जयपुर गोल्डन अस्पताल के पास होने की जानकारी मिली। पुलिस टीम ने तुरंत मौके पर पहुंचकर आरोपित को खून लगे पहने कपड़ों के साथ गिरफ्तार कर लिया। आरोपित से पूछताछ करने पर पता चला कि जितेंद्र ने अजीत को सौ रुपये उधार दिए थे, लेकिन वो वापिस नही कर रहा था। वारदात से पहले जितेंद्र को अजीत ने बुरी तरह से पीटा भी था। उसने पैसे वापिस देने से मना कर दिया था। जितेंद्र घर गया। वहां से चाकू लेकर अपनी पत्नी रेशमा के साथ वारदात वाली जगह पर आया। कहासुनी के बीच दंपति ने अजीत को बुरी तरह पीटा। उसके बाद जितेंद्र चाकू मारकर फरार हो गया, जबकि रेशम अपने घर वापिस आ गई थी। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी