Sand mafia attacked forest staff, three injured
क्राइम

रेत माफियाओं ने वन कर्मचारियों पर किया हमला, तीन घायल

news

दतिया, 09 जनवरी (हि.स.)। दतिया जिले में रेत के अवैध रेत का कारोबार करने वाले माफियाओं ने वन विभाग के अमले पर शनिवार को हमला कर तीन वन रक्षकों को घायल कर दिया। वहीं रेत से भरी ट्रैक्टर ट्राली छुड़ाकर भाग गए । जानकारी के अनुसार वन विभाग के आवेदन पर पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। तीनों वन रक्षकों को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया। पुलिस ने गिरफ्तार ट्रैक्टर के चालक से पूछताछ कर रही है। एक बाइक को भी जब्त की है। आरोपित सभी हमलावर अभी फरार है। वन मंडल अधिकारी प्रियांशी राठौड के अनुसार प्रदेश भर में चलाए जा रहे हैं। माफिया के खिलाफ अभियान के मद्देनजर जिले में भी वन विभाग कार्रवाई को अंजाम दे रहा है। इसी दौरान दतिया नीरज परिहार के मार्गदर्शन में रात्रिगस्त के दौरान वनअमले को सूचना मिली कि कोई रेत (वनोपज) से भरा ट्रेक्टर ट्राली सोनागिर से दतिया की ओर बिना वैध दस्तावेज के आ रहा है। जिसे वन अमला द्वारा घेरा बन्दी कर राजघाट रेस्ट हाउस के सामने हाइवे पर रोककर ड्राइवर से ट्रेक्टर से भरी रेत (वनोपज) के दस्तावेज मांगे तो ड्राइवर के पास कोई वैध दस्तावेज नहीं मिले ड्राइवर अनूप परिहार पुत्र गोटीराम परिहार निवासी-ग्राम बोह (भोय) को अभिरक्षा में लेकर जब रेत (वनोपज) से भरे ट्रेक्टर ट्राली की म.प्र. अभिवहन (वनोपज) नियम 2000 के अंतर्गत जब्त की कार्यवाही की जा रही थी तो उसी दौरान ट्रेक्टर मालिक अरविन्द यादव अपने 6-7 साथियों के साथ मौके पर आया और वन अमले पर सामूहिक रूप से लाठियों से हमला करवार्या और ट्रेक्टर ट्राली लेकर भाग गया। ट्रेक्टर चालक को वन अमले द्वारा अपनी अभिरक्षा में लेकर एवं हमलावर से संबंधित मोटर साइकिल पलसर को जब्त कर पुलिस थाना कोतवाली दतिया को सुपुर्द किया तथा हमलावरों के विरूद्ध आई.पी.सी. 1860 की धारा 353, 332, 186, 294, 506, 34 के तहत कायमी कराई गयी। हिन्दुस्थान समाचार/संतोष तिवारी /राजू-hindusthansamachar.in