रेमडेसिवर इंजेक्शन और ऑक्सीजन सप्लाई के नाम पर करते थे ठगी, एक गिरफ्तार

रेमडेसिवर इंजेक्शन और ऑक्सीजन सप्लाई के नाम पर करते थे ठगी, एक गिरफ्तार
remedies-used-for-cheating-in-the-name-of-injection-and-oxygen-supply-one-arrested

नई दिल्ली, 04 मई (हि.स.)। रेमडेसिवर इंजेक्शन और ऑक्सीजन सप्लाई के नाम पर ठगी करने वाले झारखंड गिरोह का भंडाफोड़ कर एक जालसाज को साउथ जिले की साइबर सेल ने फरीदाबाद से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार जालसाज की पहचान इस्माइलपुर फरीदाबाद निवासी रोहित कुमार के रूप में हुई है। मूल रूप से वह रांची (झारखंड) का रहने वाला है। साउथ जिला के डीसीपी अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि कोटला मुबारकपुर थाने में मोहित गुप्ता ने जालसाजी की शिकायत दर्ज कराई थी। पीड़ित की शिकायत पर मामला दर्ज कर साइबर सेल इंस्पेक्टर अजीत कुमार के नेतृत्व में टीम बना जांच शुरू की गई। जांच में पता चला कि रोहित और शहंशाह के नाम पर एक ही बैंक में दो-दो खाते एक ही पते पर चलाए जा रहे हैं। उसके बाद एड्रेस के आधार पर रोहित को इस्माइलपुर (फरीदाबाद) से गिरफ्तार कर लिया गया। जांच में पता चला कि उसने गिरोह के अन्य साथियों के साथ मिलकर रेमडेसिवर इंजेक्शन और ऑक्सीजन सप्लाई करने के नाम पर कई लोगों से ठगी कर चुके हैं। पूछताछ में उसने बताया कि उसने सर्वेश की मदद से पांच बैंक में अकाउंट खुलवा रखा है। सर्वेश को ही सारे बैंक अकाउंट और सिम दे रखा है जिसमें ठगी के पैसे मंगवाए जाते हैं। उसे भी ठगी की रकम का दो प्रतिशत मिलता था। जांच में यह भी पता चला कि विजय विहार थाने में भी उसके खिलाफ इंजेक्शन दिलाने के नाम पर एफआईआर दर्ज है। फिलहाल पुलिस उसके साथी और गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश में जुटी हुई है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी