पुलिस की हवाला कारोबार के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, लग्जरी कार से करीब साढ़े चार करोड़ जब्त

पुलिस की हवाला कारोबार के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, लग्जरी कार से करीब साढ़े चार करोड़ जब्त
police-takes-major-action-against-hawala-business-about-four-and-a-half-crore-seized-from-luxury-car

डूंगरपुर, 22 मई (हि.स.)। जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा अवैध कारोबारियों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान के तहत शनिवार को राजस्थान-गुजरात सीमा पर नाकाबंदी के दौरान एक कार से साढ़े चार करोड़ रूपये अवैध रूप से परिवहन कर ले जाते हुए बिछीवाडा पुलिस ने जब्त किये। जब्त की गई राशि को लेकर संशय जताया जा रहा है कि उक्त मामला हवाला कारोबार से जुड़ा हुआ है जो कि दिल्ली से गुजरात जा रहा था। जिला पुलिस अधीक्षक सुधीर जोशी ने बताया कि वर्तमान में कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिले की सीमाओं पर सतर्कता बरती जा रही है, क्योकि अवैध कारोबारी वर्तमान परिस्थितियो का लाभ उठाकर अवैध कारोबारों का संचालन करने की फिराक में रहते है। शनिवार को भी बिछीवाड़ा पुलिस द्वारा रतनपुर बोर्डर पर नाकाबंदी के दौरान दिल्ली से गुजरात जा रही एक लग्जरी कार को रूकवाकर जब चालक व उसके साथी के साथ पूछताछ की तो वे घबरा गये, जिस पर पुलिस ने कार की बारिकी से तलाशी ली तो सीट के नीचे एक गुप्त बॉक्स बना हुआ था। उसे खोलकर देखा तो नोटो का अम्बार लगा हुआ था। पुलिस दल कार को लेकर थाने पहुंची तथा कार से निकालकर जब नोटो की गिनती की गई तो वह 4 करोड 49 लाख 99 हजार 500 रूपये थे। जिनके बारे में आरोपी नितिन कुमार पटेल पुत्र छगनलाल पटेल निवासी कल्याणपुर ऊंझा थाना ऊंझा जिला मेंहसाणा तथा रणजीत सिहं पुत्र रूपचंद निवासी बवासणा थाना बालीसणा जिला पाटन गुजरात को डिटेन किया। प्रारंभिक पूछताछ में दोनो ने कोई संतोषप्रद जवाब नहीं दिया लेकिन पुलिस को संदेह है कि उक्त राशि हवाला कारोबार से जुडी हुई है। पुलिस मामले को लेकर कार्यवाही में जुटी हुई है। दिल्ली-हरियाणा, राजस्थान की सीमाओ को पार कर पहुंचे थे गुजरात बोर्डर पर :- नकदी लेकर दिल्ली से रवाना हुई यह कार लॉकडाउन के बीच दिल्ली की सीमा पार करते हुए हरियाणा पहुंची ओर वहां से राजस्थान में प्रवेश के बाद राज्य के अन्तिम छोर डूंगरपुर जिले के रतनपुर बोर्डर तक पहुंची और ठीक गुजरात राज्य में प्रवेश से पूर्व डूंगरपुर पुलिस ने आरोपियो को धरदबोच लिया। पूछताछ में यह भी सामने आया कि 19 मई अहमदाबाद से दिल्ली के लिए निकले थे। दिल्ली में कुछ समय के लिए उनकी कार को कोई ओर ले गया था। बाद में वाहन सौपते वक्त यह कार अहमदाबाद में कमलेश नाम के व्यक्ति को देना बताया। इधर पुलिस अधीक्षक ने इसकी सूचना इन्कमटेक्स विभाग को भी दे दी है। आरोपियो ने पूछताछ में दिल्ली से अहमदाबाद जाना भी कबूल किया है। दो मशीनो से तीन घण्टे में गिने नोट :- पुलिस द्वारा कार से जब्त की गई राशि को गिनने के लिए दो मशीने मंगवाई गई और साढे चार करोड रूपये को गिनने में कोई तीन घण्टे से अधिक का समय लगा। हिन्दुस्थान समाचार/संतोष व्यास/ ईश्वर