विवादित बयान पर बाबा रामदेव के खिलाफ उतरी परशुराम सेना, सौंपा ज्ञापन

विवादित बयान पर बाबा रामदेव के खिलाफ उतरी परशुराम सेना, सौंपा ज्ञापन
parashuram-army-came-out-against-baba-ramdev-on-controversial-statement-submitted-memorandum

राजगढ़, 09 जून (हि.स.)। बाबा रामदेव द्वारा एलोपैथी के बाद ज्योतिष शास्त्र को लेकर जो विवादित बयान दिया गया है, उसके विरोध में परशुराम सेना ब्यावरा ने बुधवार को एसडीएम जूही गर्ग को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा और दंडात्मक कार्रवाई की मांग की। ज्ञापन में उल्लेख है कि बाबा रामदेव उर्फ रामकिशन यादव ने एलोपैथी के बाद ज्योतिष शास्त्र को लेकर जो विवादित बयान दिया है, उससे वेदों के साथ सनातन धर्म का अपमान हुआ है। बाबा रामदेव योग आयुर्वेद के जरिए सनातन धर्मावलंभियों से जुडे़ है और उनके फाॅलोवर भी अधिक संख्या में हिन्दु सनातन धर्म के लोग ही है, उनके द्वारा दिए गए बयान का नकरात्मक प्रभाव न केवल धर्मावलंभियों पर पड़ा है, बल्कि उनका बयान वेद शास्त्रों के विरुद्ध है। जिस तरह उन्होंने एलोपैथी पर दिए गए विवादास्पद बयान को बापस लिया, उसी तरह ज्योतिष शास्त्र के खिलाफ दिए गए बयान को भी बापस लें, अन्यथा रामदेव उर्फ रामकिशन यादव के खिलाफ ब्राहम्ण समाज संपूर्ण भारत में उनके खिलाफ अभियान चलाएगा। ज्ञापन के जरिए राष्ट्रपति से मांग की गई है कि सनातन धर्म के विरुद्ध बोलने वाले बाबा के व्यापार का लाइसेंस रद्द किया जाए साथ ही उनके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाए। ज्ञापन सौंपने के दौरान ब्राहम्ण समाज नवयुवक मंडल के जिलाध्यक्ष अमित शर्मा, परशुराम सेना पुजारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष द्वारिकाप्रसाद, निर्मल शर्मा, रचना भार्गव, समर्थ नागर सहित समाज के अन्य लोग मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/मनोज पाठक