पलामू: फौज में इस्तेमाल होने वाली इंसास राइफल की गोलियां बेचते दो गिरफ्तार

पलामू: फौज में इस्तेमाल होने वाली इंसास राइफल की गोलियां बेचते दो गिरफ्तार
palamu-two-arrested-for-selling-insas-rifle-bullets-used-in-army

मेदिनीनगर, 12 अप्रैल (हि. स.)। पलामू पुलिस ने सिविलियन के लिए प्रतिबंधित इंसास रायफल की मैगजीन और 20 राउंड गोली के साथ मामा-भांजे को गिरफ्तार किया है। पुलिस इसमें नक्सली कनेक्शन होने की आशंका के चलते भी जांच कर रही है। मेदिनीनगर शहर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर अरूण कुमार माहथा ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि डालटनगंज स्टेशन रोड पर दो युवक इंसास रायफल की गोलियों को बेचने की फिराक में घूम रहे हैं। एसपी संजीव कुमार के निर्देश पर पुलिस ने बाइक सवार दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। तलाशी के दौरान दोनों के पास से इंसास की 5.56 बोर की 20 गोली और मैगजीन बरामद हुई। उनके पास मिली बाइक भी पुलिस ने जब्त कर ली। गिरफ्तार युवकों की पहचान हसन अंसारी निवासी रामगढ़ थानाक्षेत्र के बेड़मा-बभंडी और जिलानी अंसारी निवासी सदर थानाक्षेत्र के टेलियाबांध के रूप में हुई हैं। दोनों युवक रिश्ते में मामा और भांजा लगते हैं। दोनों वाट्सऐप माध्यम से कारतूस और मैगजीन बेचने की तैयारी में थे। इंस्पेक्टर अरुण कुमार माहथा ने बताया कि इंसास रायफल आम लोगों के लिए प्रतिबंधित है। इंसास रायफल का उपयोग पुलिस और फौज में होता है, लेकिन इसकी गोली को वाट्सऐप के जरिए बेचा जा रहा था। पकड़े गए युवकों ने बताया कि उसे लेस्लीगंज के गुड्डू ने कारतूस बेचने के लिए दिया था। मामले में नक्सली कनेक्शन है या कहीं से गोली की चोरी की गई है। इसे लेकर पुलिस जांच कर रही है। इंस्पेक्टर ने बताया कि बेचने के लिए गोली देने वाले लेस्लीगंज के गुड्डू की पहचान और उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस प्रयास कर रही है। हिन्दुस्थान समाचार/ वंदना