संजीत हत्याकांड के आरोपितों को लेकर पाण्डु नदी में शव की तलाश कर रहे पीएसी कर्मी
संजीत हत्याकांड के आरोपितों को लेकर पाण्डु नदी में शव की तलाश कर रहे पीएसी कर्मी
क्राइम

संजीत हत्याकांड के आरोपितों को लेकर पाण्डु नदी में शव की तलाश कर रहे पीएसी कर्मी

news

कानपुर, 30 जुलाई (हि.स.)। संजीत यादव हत्याकांड के खुलासे को करीब सात दिन हो गए पर अभी भी पुलिस उसके शव को नहीं खोज सकी है। सात दिनों से गोताखोर और पीएसी की मोटरबोट के जरिये पाण्डु नदी में शव को खोजा जा रहा है, लेकिन सफलता नहीं मिल रही है। पुलिस ने आरोपितों को रिमांड पर लिया है। आज दोनों को साथ लेकर पीएसी कर्मी दो मोटरबोट के जरिये शव की तलाश में जुटे हैं। बर्रा के पैथोलॉजी कर्मी संजीत यादव के अपहरण-हत्याकांड के खुलासे में दोस्त ही गुनाहगार निकले। बुधवार को पुलिस ने 48 घंटे के लिए तीन आरोपितों को रिमांड पर लिया और कड़ी पूछताछ की। गुरुवार को आरोपितों को लेकर पीएसी कर्मियों ने पाण्डु नदी में दो मोटरबोट के जरिये शव के लिए सर्च ऑपरेशन चलाना शुरु कर दिया। समाचार लिखे जाने तक संजीत का शव नहीं मिल सका है। आरोपितों ने बताया कि फत्तेपुरगोही के लोहे वाले पुल के बीच वाले पिलर से सटाकर शव को फेका गया था। सात दिनों से शव को खोज रही पुलिस को अब यह भी आशंका होने लगी है कि आरोपित कहीं गुमराह तो नहीं कर रहे हैं। इसको लेकर भी आरोपितों से सख्ती से पूछताछ की जा रही है। वहीं परिजन रो-रो कर बेहाल है और उनका कहना है कि बेटे को तो पुलिस नहीं ला सकी पर उसकी लाश तो हमें दिखा दो। हिन्दुस्थान समाचार/अजय/दीपक-hindusthansamachar.in