पडोसी ही निकला एसडीएम की बहन का हत्यारा, आरोपित चढ़ा पुलिस के हत्थे

पडोसी ही निकला एसडीएम की बहन का हत्यारा, आरोपित चढ़ा पुलिस के हत्थे
Neighbor turned out to be the killer of SDM's sister, accused caught by police

जयपुर,11 जनवरी ( हि.स.)। राजधानी में शिप्रापथ थाना इलाके के थड़ी मार्केट में सोमवार सुबह घर में राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारी की बहन विद्या देवी को बंधक बनाकर हत्या करने के मामले में आरोपित पडोसी को गिरफ्तार कर लिया है। इस बारे में जानकारी देते हुए अतिरिक्त पुलिस आयुक्त(प्रथम) जयपुर अजयपाल लाम्बा ने बताया कि सोमवार सुबह करीब 9 बजकर 50 मिनट पर सूचना मिली की थडी मार्केट, मानसरोवर में एक महिला घर में हाथ, पैर व मुंह बंधे हुए अवस्था में मिली है, जिसकी किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा हत्या कर लूट की वारदात को अंजाम दिया गया। मृतका विद्या देवी जयपुर कलेक्ट्रेट में कार्यरत एसडीएम युगांतर शर्मा की बड़ी बहन हैं। विद्या देवी पेशे से टीचर हैं और अकेली ही मानसरोवर स्थित अपने मकान में रहती थीं। उनका एक पुत्र भोपाल में आईटी कंपनी में कार्यरत है। इस घटना के संबंध में संबंधित शिप्रापथ थाने में मामला दर्ज कर हत्यारे की तलाश शुरू की गई। उन्होंने बताया कि दिनदहाडे घनी आबादी क्षेत्र में हत्या व लूट की वारदात से आमजन में भय का माहौल व्याप्त था। वारदात को अंजाम देने वाले अज्ञात अपराधी का पता लगाना काफी चुनौती पूर्ण कार्य था। अपराधी की तलाश के लिए पुलिस उपायुक्त जयपुर दक्षिण हरेन्द्र महावर व अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त जयपुर दक्षिण अवनीश कुमार शर्मा के मार्गदर्शन में एसीपी मानसरोवर संजीव चौधरी व एसीपी चाकसू अर्जुनराम चौधरी के नेतृत्व में 10 टीमों का गठन किया गया। जिसमें सीएसटी, डीएसटी व जिला जयपुर दक्षिण के करीब 100 से अधिक पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को अलग-अलग टास्क देकर लगाया गया। प्रकरण में पुलिस टीमों को गठन कर आसपास के संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ, सीसीटीवी चैकिंग हेतु गठित की गई। कुछ संदिग्धों से गहनता से पूछताछ की गई, पूछताछ में एक संदिग्ध द्वारा बताई गई बातों का सत्यापन किया तो बातों एवं वास्तविकता में भिन्नता पायी गई। इस पर उस संदिग्ध से गहनता से पूछताछ की गई। संदिग्ध कृष्णकान्त शर्मा उर्फ कृष्णा पुत्र विजय कुमार शर्मा उम्र 19 साल थडी मार्केट, मानसरोवर का रहने वाला है। आरोपित कृष्णकान्त मृतका विद्या देवी के पडोस में ही रहता है और उसी सुबह ही मृतका से कहासुनी हुई थी। उसके चहरे पर चोट के निशान थे और वह घटना के वक्त कहां था, इसके बारे में कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे पर रहा था। आरोपित ने पुलिस को गुमराह करने के लिये बताया कि वह उस समय ट्यूशन गया हुआ था। शक होने पर आरोपित कृष्णकान्त से गहनता से पूछताछ की गई जिसमें आरोपित ने वारदात करना स्वीकार किया। आरोपित कृष्णकान्त ने बताया कि वह सुबह अपने कुत्तों को घुमाने निकला उस समय मृतका से उसकी कहासुनी हो गई। तभी उसने महिला की हत्या करने की योजना बनाई। जब मृतका गाय को चारा डालने गई तो दरवाजा बाहर से कुन्दी लगी होने से आरोपित ने घर में घुसकर ऊपर का दरवाजा खोल दिया और पुनः अपने घर वापस आ गया। फिर दोबारा उपर के दरवाजे से जाकर उसने वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ जारी है। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश/संदीप-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.