राकांपा से जुड़े सुनील पाटिल क्रूज पार्टी छापेमारी के मास्टरमाइंड : भाजपा कार्यकर्ता

 राकांपा से जुड़े सुनील पाटिल क्रूज पार्टी छापेमारी के मास्टरमाइंड : भाजपा कार्यकर्ता
ncp39s-sunil-patil-cruz-mastermind-of-party-raid-bjp-worker

मुंबई, 6 नवंबर (आईएएनएस)। कार्डेलिया क्रूज छापेमारी मामले में शनिवार को एक और नया मोड़ सामने आया है। भाजपा के एक कार्यकर्ता ने शनिवार को दावा किया कि सुनील पाटिल, जो राकांपा नेताओं से जुड़े हैं, सनसनीखेज मामले के कथित मास्टरमाइंड हैं, जिसमें बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था। मीडियाकर्मियों से बात करते हुए भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता मोहित कंबोज भारतीय ने कहा कि धुले के रहने वाले पाटिल के राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के सभी शीर्ष नेताओं और मंत्रियों के साथ घनिष्ठ संबंध हैं और उन्हें क्रूज पर होने वाली रेव पार्टी की पूर्व जानकारी थी, जिस पर 2 अक्टूबर को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के मुंबई जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने छापा मारा था। भारतीय के अनुसार, पाटिल राज्य के पूर्व मंत्री अनिल देशमुख के बेटे ऋषिकेश देशमुख के मित्र हैं। उन्होंने कहा कि पाटिल के राकांपा नेताओं के साथ गहरे संबंध हैं और अनिल देशमुख ने एक बार कथित तौर पर ड्रग पेडलर और माफिया डॉन दाऊद इब्राहिम कास्कर के सहयोगी चिंकू पठान से एक सरकारी गेस्ट हाउस में लॉकडाउन के दौरान मुलाकात की थी। मोहित कंबोज भारतीय ने महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक के आरोपों का जवाब देने के लिए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। मोहित कंबोज ने कहा, आज मैं उन तमाम बातों का खुलासा करूंगा कि कैसे नवाब मलिक ने पूरे देश के सामने एक झूठ का पुलिंदा पेश किया। वहीं कंबोज के आरोपों पर एनसीपी नेता नवाब मलिक ने उन्हें समीर दाऊद वानखेड़े की निजी सेना का सदस्य कहा है। मलिक ने इसे वानखेड़े की निजी सेना के एक सदस्य द्वारा गुमराह किए जाने और सच्चाई से ध्यान हटाने की असफल कोशिश करार दिया है। भारतीय ने दावा किया कि पाटिल उन अन्य लोगों के साथ भी जुड़ा हुआ है, जिनके नाम हाल के हफ्तों में सामने आए हैं, जिसमें सैम डिसूजा, किरण गोसावी, प्रभाकर सैल और मनीष भानुशाली जैसे नाम शामिल हैं और वे एक सिंडिकेट के रूप में काम करते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि उन्होंने पैसे निकालने या उगाही करने की कोशिश की और वे अधिकारियों के स्थानांतरण और पोस्टिंग में शामिल हैं। कंबोज ने मलिक पर भाजपा, एनसीबी और उसके अधिकारियों को बदनाम करने के लिए एक झूठी कहानी गढ़ने का आरोप लगाया। भारतीय ने यह जानने की मांग की है कि पाटिल का मलिक और अन्य वरिष्ठ राकांपा नेताओं और मंत्रियों के साथ क्या संबंध हैं, जिनके साथ उनके (पाटिल) घनिष्ठ संबंध हैं। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि पाटिल ने महीनों के लिए होटल ललित में बुकिंग की है और वहां शराब, शबाब और कबाब की पूरी सुविधा रहती है। इसके बारे में मैं और खुलासा करूंगा। भाजपा कार्यकर्ता ने कहा कि पाटिल को क्रूज रेव पार्टी की अग्रिम जानकारी थी और वह कुछ लिंक चाहते थे जो उन्हें एनसीबी के संपर्क में ला सके और फिर उनके पास गोसावी को भेज दिया गया। भारतीय ने कहा, वे सभी (गोसावी, डिसूजा, भानुशाली) पाटिल के सहयोगी हैं। मुझे किसी की ओर से उनके ऑडियो-वीडियो क्लिप और व्हाट्सएप संदेश भेजे गए हैं और मैंने उन्हें जांच एजेंसियों को भेज दिया है। इस बीच, मलिक ने कहा कि वह रविवार को होटल ललित प्रकरण पर और खुलासा करेंगे, जबकि कुछ भाजपा नेताओं ने उन्हें एनसीबी से दूर रहने और एजेंसी को अपना काम करने की सलाह दी है। --आईएएनएस एकेके/एसजीके

अन्य खबरें

No stories found.