Mewati gang are now cheating online
क्राइम

मेवाती गैंग अब कर रहे है ऑनलाइन ठगी

news

नई दिल्ली, 09 जनवरी (हि.स.)। हरियाणा व राजस्थान के बीच बसा मेवात इलाका अपराध व बदमाशों के लिए जाना जाता है। यहां रहने वाले लोग दिल्ली-एनसीआर में आकर अपराध को अंजाम देते है। यह लोग अलग-अलग तरह के अपराध कर रहे थे, लेकिन अब इन अपराधों से दूरी बनाकर वह ऑनलाइन ठगी में उतर आए हैं। बीते दिनों ऐसे कई गैंग का साइबर सेल ने खुलासा किया है। जानकारी के अनुसार, करीब 10 वर्ष पहले तक मेवात से आने वाले अपराधी केवल पशु चोरी व लूट की वारदातों को अंजाम देते थे। वह टेम्पो में सवार होकर आते और एक ही रात में कई पशुओं को उठाकर ले जाते थे। इनके टेम्पो में पत्थर भरे होते थे। पुलिस उन्हें रोकने का प्रयास करे तो वह पथराव कर देते थे। इतना ही नहीं वह गोली चलाने से भी नहीं हिचकते थे। ऐसे कई गैंग से पुलिस की इस दौरान मुठभेड़ भी हुई। धीरे-धीरे इस अपराध से दूरी बनाकर उन्होंने नया अपराध शुरु किया। वह एटीएम लूटने लगे। इसके साथ ही कारोबारी को अगवा कर फिरौती भी वसूलने लगे। इस तरह से कर रहे ऑनलाइन ठगी बीते एक वर्ष से मेवात के अधिक्तर बदमाश ऑनलाइन ठगी की तरफ बढ़ने लगे हैं। साइबर सेल ने बीते कुछ महीनों में ऐसे कई गैंग का पर्दाफाश किया है जो ऑनलाइन ठगी कर रहे थे। इनमें से कुछ गैंग लोगों को क्यूआर कोड भेजकर उनके बैंक खाते में सेंध लगाते हैं। वहीं कुछ गैंग फेसबुक के जरिये महिला बनकर पहले दोस्ती करते हैं और फिर वीडियो चैट पर अश्लील वीडियो बनाकर जबरन उगाही करते हैं। हाल ही में साइबर सेल ने एक ऐसे गैंग के छह लोगों को गिरफ्तार किया था। पकड़े जाने का खतरा होता है कम अब बदमाश घर बैठे अपराध को अंजाम दे रहे हैं। लोगों के साथ ठगी की वारदात को अंजाम देना भी उनके लिए मुश्किल नहीं होता। मोबाइल नंबर भी फर्जी दस्तावेजों पर लिए जाते हैं। ऐसे में पुलिस के लिए भी उन्हें पकड़ना आसान नहीं होता। यही वजह है कि समय के साथ इन बदमाशों ने गंभीर अपराधों को छोड़ ऑनलाइन ठगी करना शुरू कर दिया है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in