main-accused-of-cheating-in-the-name-of-oxygen-cylinder-medical-equipment-arrested-from-rajasthan
main-accused-of-cheating-in-the-name-of-oxygen-cylinder-medical-equipment-arrested-from-rajasthan
क्राइम

ऑक्सीजन सिलेंडर, मेडिकल उपकरण के नाम पर ठगी करने वाला मुख्य आरोपी राजस्थान से गिरफ्तार

news

-ओएलएक्स पर वाहन बेचने के नाम पर मुख्य आरोपी करता था ठगी, मेवात का रहने वाला है आरोपी नई दिल्ली, 13 मई (हि.स.)। दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने एक मेवाती गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो लोगों को कोविड-19 महामारी के दौरान ऑक्सीजन सिलेंडर और अन्य मेडिकल उपकरण उपलब्ध करने के नाम पर ठगी कर रहा था। फिलहाल पुलिस ने गिरोह के मास्टर माइंड को भरतपुर राजस्थान से गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान मेवात हरियाणा निवासी 25 साल के इमरान के तौर पर की गई है। पुलिस ने बताया कि इस गिरोह के खिलाफ दिल्ली में छह मामले दर्ज हैं। आरोपी पहले अपने गिरोह के सदस्यों के साथ मिल कर ओएलएक्स पर वाहन बेचने के नाम पर ठगी करता था, लेकिन जब उसे लगा कि कोविड-19 के इस महामारी के दौरान आॅक्सीजन सिलेंडर और अन्य उपकरणों की मांग बढ़ गई है तो आरोपी अपने गिरोह के सदस्यों के साथ मिल कर ठगी करने लगा। अपराध शाखा के अतिरिक्त आयुक्त शिबेश सिंह ने गुरूवार को बताया कि बीते दिनों गैस सिलेंडर को लेकर मारामारी की स्थिति पूरे देश में पैदा हो गई थी। टीम को इसी बीच जानकारी मिली कि मेवात और बिहार के कुछ गिरोह देश भर के लोगों से मेडिकल उपकरण और ऑक्सीजन सिलेंडर मुहैया करवाने के नाम पर ठगी कर रहे हैं। टीम ने आरोपियों को नजर रखनी शुरू कर दी। इसी बीच पुलिस टीम को जानकारी मिली कि भरतपुर राजस्थान में गिरोह का मास्टर माइंड छुपा हुआ है। सूचना के आधार पर पुलिस की टीम ने आरोपी को वहां से दबोच लिया। उसकी निशानदेही पर पांच मोबाइल फोन मिले। अतिरिक्त आयुक्त ने कहा कि पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह अपने गिरोह के वक्का, वसीम, रामीन, आरीफ और अन्य लोगों के साथ पहले ओएलएक्स के जरिए लोगों से मोटरसाइकिल और कार बेचने के नाम पर ठगी करता था। पर महामारी के दौरान जिस प्रकार से ऑक्सीजन सिलेंडर की मारामारी होने लगी। इसी दौरान आरोपी ने अपने मोबाइल फोन को सभी सोशल मीडिया के माध्यमों पर डाल दिया और पूरे देश भर के लोगों से अपने सहयोगियों के साथ मिल कर ठगी करने लगा। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी