महावीर इन्क्लेव के तीन फ्लैटों में हुई चोरी मामले में लाइनर गिरफ्तार
क्राइम

महावीर इन्क्लेव के तीन फ्लैटों में हुई चोरी मामले में लाइनर गिरफ्तार

news

पटना, 22 जुलाई (हि.स.)। मजिस्ट्रेट कॉलोनी में महावीर इन्क्लेव के तीन फ्लैटों में एक साथ हुई चोरी के मामले में पटना पुलिस ने गुरुवार को लाइनर विकास पासवान को गिरफ्तार कर लिया। विकास मसौढ़ी का रहने वाला है और पिछले एक वर्ष से अपार्टमेंट में गार्ड की नौकरी कर रहा था। पुलिस सूत्रों का कहना है कि इसने ही अपराधियों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया है। पुलिस उससे गुप्त स्थान पर पूछताछ कर रही है। सोमवार की रात चोरों ने लखनऊ में पदस्थापित सीआरपीएफ की असिस्टेंट कमांडेंट किरण सिंह, बीजेपी नेता उदय शंकर प्रजापति और आरजेडी नेता धर्मेंद्र सिंह के बंद फ्लैट को पूरी तरह से खंगाल डाला था । इन तीनों फ्लैटों से चोरी की गयी संपत्ति की कीमत 60 लाख से अधिक की बताई गई थी। लाखों की चोरी का यह मामला पटना के राजीव नगर थाना क्षेत्र का था। पुलिस के अनुसार चोरों ने मजिस्ट्रेट कॉलोनी में महावीर इन्क्लेव के फ्लैट नंबर 102 में सबसे पहले चोरी किया था। यह फ्लैट सीआरपीएफ में असिस्टेंट कमांडेंट किरण सिंह का है। उनके फ्लैट का ताला तोड़ 50 लाख के आभूषण और दूसरे कीमती सामान समेट लिये । इसके बाद उन लोगों ने उसी मकान में रहने वाले बीजेपी नेता और राज्य पिछड़ा प्रकोष्ठ के सदस्य उदय शंकर प्रजापति के फ्लैट नंबर 401 का ताला तोड़कर 3 लाख 60 हजार रुपए की कलाई घड़ी, बेटी को देने के लिए खरीदा गया 52 हजार रुपए का नया लैपटॉप, डेढ़ लाख की ज्वेलरी, 22 हजार रुपया नकद और 8 हजार रुपए के नए जूते सहित दूसरे कीमती सामान लेकर फरार हो गए थे। इसके बाद उन लोगों ने अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 108 को भी खंगाला जो आरजेडी नेता धर्मेंद्र सिंह का है। उनकी ओर से अभी तक चोेरी गए समानों की लिस्ट पुलिस को नहीं दी है। चोरों ने इसके बाद बगल में अपराजिता अपार्टमेंट के बंद पड़े तीन फ्लैट को भी खंगाला था। लेकिन उनको वहां से कुछ नहीं मिला था। सीसीटीवी में दिखे दो नकाबपोश राजीव नगर थाना की पुलिस घटना के बाद से पूरे मामले की जांच कर रही है। पुलिस को सीसीटीवी कैमरे में दो नकाबपोश चोर दिखे थे। उसके आधार पर ही पटना पुलिस ने गार्ड से भी पूछताछ किया था। पूछताछ में कई ऐसे बात सामने आए कि पटना पुलिस को शंका हुई कि घटना में इसकी भूमिका भी है। इसके बाद पटना पुलिस ने उसको गिरफ्तार कर लिया है। बहरहाल पटना पुलिस इस मामले में फिलहाल कुछ भी बोलने से इंकार कर रही है। हिन्दुस्थान समाचार/ राजेश/विभाकर-hindusthansamachar.in