कॉल सेंटर चलाकर एलआईसी धारकों से ठगी करने वाला जालसाज भिवानी से गिरफ्तार
क्राइम

कॉल सेंटर चलाकर एलआईसी धारकों से ठगी करने वाला जालसाज भिवानी से गिरफ्तार

news

नई दिल्ली, 24 जुलाई (हि.स.)। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने कॉल सेंटर चलाकर एलआईसी धारकों से ठगी करने वाले एक जालसाज को भिवानी से गिरफ्तार किया है। आरोपी के खिलाफ एलआईसी के अधिकारी ने शिकायत की थी। आरोपी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आया था। अदालत ने इस मामले में उसे भगोड़ा करार दिया था और दिल्ली पुलिस ने उसपर 25 हजार का इनाम घोषित कर रखा था। हालांकि आरोपी को महाराष्ट्र पुलिस जालसाजी के आरोप में पहले गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस उपायुक्त राकेश पवेरिया ने बताया कि वर्ष 2015 में एलआईसी दिल्ली के कार्यकारी निदेशक ने एक शिकायत दी। जिसमें उसने बताया कि कुछ लोग खुद एलआईसी कर्मचारी बताकर लोगों को आकर्षक लाभ का झांसा देकर ठगी कर रहे हैं। कुछ पालिसी धारकों से बियॉन्ड यात्रा ड्रीम कम प्राइवेट लिमिटेड और लाइट इंडिया क्लब प्राइवेट लिमिटेड के नाम से चेक लिए गए हैं। ठगी करने के बाद आरोपी पॉलिसी धारकों से बातचीत बंद कर देते हैं। जांच में पुलिस ने फर्जीबाड़े में शामिल जालसाज सुमित, अविनाश व अन्य लोगों की पहचान की। काफी प्रयास के बावजूद सुमित गिरफ्तार नहीं हो पाया। भगोड़ा करार देने के बाद उसपर 25 हजार का इनाम घोषित किया गया। हाल में पुलिस को पता चला कि सुमित भिवानी इलाके में मौजूद है। पुलिस टीम ने वहां दबिश देकर सिविल लाइंस इलाके से सुमित को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में सुमित ने कहा कि वह दिल्ली से होटल मैनेजमेंट का कोर्स करने के बाद ठगी करने के लिए नोएडा में कॉल सेंटर खोला। अन्य कॉल सेंटर से संपर्क कर डाटा एकत्र किया और फिर ठगी शुरू कर दी। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in