kerala-cpim-leader-accused-of-sexually-assaulting-party-worker
kerala-cpim-leader-accused-of-sexually-assaulting-party-worker
क्राइम

केरल माकपा नेता पर लगा पार्टी कार्यकर्ता के यौन शोषण का आरोप

news

तिरुवनंतपुरम, 28 नवंबर (आईएएनएस)। केरल की तिरुवल्ला पुलिस ने सत्तारूढ़ माकपा नेता और पार्टी के कोट्टायई शाखा सचिव पी.एस. साजिमोन पर एक पार्टी कार्यकर्ता का यौन शोषण करने के आरोप में मामला दर्ज किया है। महिला ने अपनी शिकायत में कहा है कि साजिमोन ने उसे बहला-फुसलाकर एक सुनसान जगह पर ले जाकर नशीला पदार्थ मिलाकर जूस पिलाया, जिससे वह बेहोश हो गई। उसने शिकायत में कहा कि साजिमोन ने माकपा के एक अन्य युवा नेता नासर के साथ उसकी न्यूड तस्वीरें सोशल मीडिया पर प्रसारित कीं। पुलिस ने तिरुवल्ला नगरपालिका के दो पार्षदों के खिलाफ भी मामला बनाया है। उसने यह भी आरोप लगाया कि उसकी तस्वीरों के प्रसार में एक वकील भी शामिल था। साजिमोन एक अन्य यौन शोषण मामले में भी शामिल था जिसमें उसने एक विवाहित महिला को गर्भवती किया था। बाद में अपने राजनीतिक दबदबे का इस्तेमाल करके डीएनए परीक्षण रिपोर्ट को खराब करने की कोशिश की थी। सीपीएम ने उन्हें स्थानीय समिति के सदस्य के पद से हटा दिया था और उन्हें कोट्टायई शाखा का शाखा सचिव बना दिया था। कोझिकोड के सामाजिक कार्यकर्ता और लेखक एम. कृष्णनुन्नी ने आईएएनएस को बताया कि सीपीएम महिला अधिकारों और लैंगिक समानता की वकालत करती रही है और ये सब दिखावा है। वे इस तरह के दुर्व्यवहार करने वालों को प्रमुख पदों पर रख रहे हैं और पार्टी शाखा सचिव एक सत्तारूढ़ राजनीतिक के लिए एक महत्वपूर्ण पद है। पार्टी के रूप में उनका स्थानीय पुलिस स्टेशन में प्रभाव होगा और पुलिस द्वारा लिए जाने वाले महत्वपूर्ण निर्णयों को भी प्रभावित करेगा। पार्टी जानती थी कि वह एक दुर्व्यवहार करने वाला था और उसे स्थानीय समिति के सदस्य के रूप में हटा दिया था। उन्होंने उसे शाखा सचिव के रूप में भी एक पद क्यों दिया इसके बाद। इसका मतलब है कि वह एक ऐसे व्यक्ति हैं जो पार्टी नेतृत्व के करीब हैं। --आईएएनएस एमएसबी/आरजेएस