मैं अपनी मर्जी से जान दे रहा हूं.. सुबह बबूल के पेड़ पर लटका मिला वृद्ध का शव

 मैं अपनी मर्जी से जान दे रहा हूं..  सुबह बबूल के पेड़ पर लटका मिला वृद्ध का शव
i-am-giving-my-own-life--i-found-the-body-of-an-old-man-hanging-on-the-acacia-tree-in-the-morning

जोधपुर, 13 मई (हि.स.)। जिले के लूणी तहसील के सर गांव में रहने वाले एक वृद्ध का शव आज सुबह बबूल के पेड़ पर फंदे से लटका मिला। उसने रस्सी से फंदा लगाकर खुदकुशी की। वह हमेशा ही रात में मंदिर दर्शनार्थ जाता था। उसने मर्जी से जान देने की बात सुसाइड नोट में की है। वहीं एक अन्य युवक ने मदेरणा कॉलोनी में फंदा लगाकर खुदकुशी की है। पुलिस ने आज शवों को कार्रवाई के बाद परिजन को सौंप दिया। लूणी पुलिस थाने के एएसआई लक्ष्मण सिंह ने बताया कि सर गांव निवासी 67 साल के मूलसिंह पुत्र सुमेर सिंह राजपूत का शव आज सुबह भाखरी गांव में सडक़ मार्ग पर एक बबूल के पेड़ पर लटका मिला। उसने रस्सी से फंदा लगाकर खुदकुशी की। मृतक के पास मिले सुसाइड नोट में उसने मर्जी से जान देना बताया और किसी को परेशान नहीं किए जाने की बात की है। वह हमेशा ही भाखरी स्थित माताजी मंदिर पर दर्शन के लिए जाता था। रात में भी गया था, मगर वो घर नहीं लौटा। उसके चार बेटा- बेटियां है। परिजन ने मौत पर कोई शकसुबह जाहिर नहीं किया है। मर्ग की रिपोर्ट दी गई है। वहीं महामंदिर पुलिस ने बताया कि विश्नोईयों का बास रामदेव मंदिर वाली गली मदरेणा कॉलोनी निवासी दिलीप पुत्र कानाराम के पुत्र योगेश ने मानसिक परेशानी के चलते अपने घर में फँदा लगाकर खुदकुशी कर ली। परिजन को पता लगने पर उसे फंदे से उतार कर अस्पताल लेकर पहुंचे। मगर डॉक्टर ने उसे मृत बता दिया। शव को कार्रवाई के बाद परिजन को सौंप दिया गया। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश / ईश्वर

अन्य खबरें

No stories found.