had-found-out-about-having-an-affair-he-was-murdered
had-found-out-about-having-an-affair-he-was-murdered
क्राइम

अफेयर होने के बारे में पता लगा तो कर दी थी हत्या

news

नई दिल्ली, 23 फरवरी (हि.स.)। रोहिणी जिले के बेगमपुर इलाके में पिछले ही हफ्ते एक किशोरी की हथौड़ी मारकर हत्या करने के मामले में पुलिस ने उत्तर प्रदेश हरदोई से आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। जिसकी पहचान लाईक खान के रूप में हुई है। लाईक को लेकर पुलिस दिल्ली आ गई है। पुलिस को लाईक सेे पूछताछ करने पर पता चला कि लाईक को पता चल गया था कि किशोरी का किसी दूसरे से अफेयर है। उसने उसके फोन में लडके की फोटो भी देख ली थी। जिसको लेकर वह किशोरी से झगड़ा करता रहता था। वारदात वाले दिन भी वह उसे आखिरी बार समझाने आया था। वह पहले भी सोचकर आया था कि अगर वो नहीं मानी तो उसको मार डालेगा। किशोरी की हत्या करने से पहले उसकी लडके को लेकर ही कहासूनी हुई थी। हत्या करने बाद आरोपित लाईक खान बस से सीलमपुर इलाके में गया। वहां से रात को उसने हरदोई जाने वाली बस ली। जिसने सुबह उसे हरदोई उतार दिया। वहां पर उसने कुछ दोस्तों व जानकारों से संपर्क किया, लेेकिन दोपहर होते होते गांव में भी लोगों को अखबार और न्यूज चैनल देखकर लाईक द्वारा किशोरी की हत्या करने की बात पता चल गई थी। वहां के प्रधान को भी इस बारे में जानकारी गांव के ही रहने वाले लोगों ने दे दी थी। जानकारी के बाद लाईक खान का परिवार भी गांव से चला गया था। सभी को पता था कि दिल्ली पुलिस जरूर वहां पर छापेमारी करने आएगी। वह अपने जानकारों से फोन पर बातचीत कर फोन को बंद कर दिया करता था। उसको भी पता था कि पुलिस ने उसका फोन सर्विलांस पर लगा रखा होगा। उसने एक दो बार प्रधान से भी संपर्क किया था। जिन्होंने उसे कोई आश्वासन नहीं दिया था। इस बीच पुलिस भी उसके फोन की लोकेशन के बाद हरदोई पहुंच गई। प्रधान से बातचीत करने पर उसके वहीं पर होने की बात सामने आई थी। प्रधान ने ही उसको अपने पास बुलाया था। जब वह आया। उसी बीच पुलिस ने आरोपित को दबोच लिया। ज्ञात हो कि पिछले ही हफ्ते आरोपित ने किशोरी के घर पर जाकर उसकी हथौड़ी मारकर हत्या कर दी थी। वह उससे शादी करना चाहता था। लेकिन परिवार और किशोरी ने इंकार कर दिया था। क्योंकि वह दूसरे धर्म का था। किशोरी की मां पिछले चार पांच साल से उसको अपने बेटे की तरह से मानती थी। उसकी फरमाईश का खाना बनाती थी। किशोरी की हत्या के बाद कई संगठनों ने परिवार से मिलकर उनको आरोपित को सख्त से सख्त सजा दिलवाने की बात कही थी। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी