gaya39s-falling-law-and-order-echo-reached-home-ministry-and-police-headquarters
gaya39s-falling-law-and-order-echo-reached-home-ministry-and-police-headquarters
क्राइम

गया की गिरती विधि-व्यवस्था की गूंज गृह मंत्रालय व पुलिस मुख्यालय पहुंचा

news

गया, 05 अप्रैल (हि.स.)। जिले में संगठित अपराध की स्थिति में भयावह बढ़ोतरी के खिलाफ विभिन्न व्यवसायी संगठन एकजुट होने लगे हैं। सेंट्रल बिहार चैम्बर ऑफ कॉमर्स के नेतृत्व में संपन्न बैठक में गया पुलिस की निष्क्रियता और व्यवसायियों के बीच असुरक्षा के माहौल का मुद्दा गर्म रहा। चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष संजय भारद्वाज और महासचिव प्रवीण मोर ने व्यवसायियों को बताया कि गया के व्यवसायियों की भावना से गृह मंत्रालय और पुलिस मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया है। इसके लिए ईमेल और रजिस्टर्ड डाक से पत्र भेजा जा चुका है।गया बुलियन एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय वर्मा ने बताया कि पुलिस की कार्यशैली और अनुसंधान अपने आप में जांच का विषय है। उन्होंने कहा कि सीसीटीवी में एक दर्जन से अधिक अपराधियों के फूटेज कैद हैं।छह सरार्फा दुकानों से कई लाख रुपये मूल्य के जेवरात चोरी हुई। संजय वर्मा ने कहा कि कुछ अपराधियों की गिरफ्तारी कर गया पुलिस अपनी पीठ थपथपा रही है।उक्त दुकानों से लाखों रुपये मूल्य के जेवरात की बरामदगी कब होगी? इस प्रश्न का जबाव पीड़ित दुकानदारों को चाहिए। गया ड्रग्स एसोसिएशन के संरक्षक प्रभात कुमार सिन्हा ने बताया कि मारुति स्विफ्ट डिजायर सवार अपराधियों ने दो थोक दवा दुकान से करीब दस लाख की संपत्ति चोरी कर ली। उन्होंने कहा कि नगर विधायक डॉ प्रेम कुमार ने उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद को घटना की जानकारी देते हुए त्वरित कार्रवाई की मांग की।श्री सिन्हा का कहना है कि त्वरित कार्रवाई की मांग को छोड़िए।एक बार फिर एक महीने के बाद स्वीफ्ट डिजाईर कार पर सवार अपराधियों ने थोक मंडी के पांच दुकानों से लाखों रुपये की संपत्ति चोरी कर फरार होने में सफल हो गए। चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष संजय भारद्वाज के अनुसार घटना होने से कोई इंकार नहीं कर सकता है। लेकिन घटना के बाद पुलिस से जो कारवाई की अपेक्षा पीड़ित को होता है। उसपर गया पुलिस खरा नहीं उतर रही है। उन्होंने कहा कि हाता गोदाम में पांच दुकानों में चोरी हुई। पीड़ित दुकानदार कोतवाली थाना गए। वहां मौजूद अधिकारी ने पुलिस वाहन में तेल नही होने की बात कहकर पीड़ित को वापस लौटा दिया। चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष संजय भारद्वाज के अनुसार मंगलवार को सभी अनुसांगिक संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ गया के सांसद विजय मांझी और पूर्व मंत्री सह नगर विधायक डॉ.प्रेम कुमार के साथ बैठक प्रस्तावित है। उन्होंने बताया कि गया पुलिस की अबतक की कार्यशैली और अनुसंधान व्यवसायियों के बीच सुरक्षा का माहौल व्याप्त करने में सक्षम नहीं है। ऐसे में गया से व्यवसायियों का एक प्रतिनिधिमंडल गृह मंत्रालय के अपर मुख्य सचिव, चैतन्य प्रसाद और सचिव जितेंद्र श्रीवास्तव के अलावा पुलिस मुख्यालय में डीजीपी एस के सिंघल, अपर महानिदेशक, सीआईडी बिनय कुमार,अपर महानिदेशक, विधि-व्यवस्था अमित कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से मिलने पटना जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/पंकज कुमार