दोस्त की ममेरी बहन से छेड़खानी करने पर दोस्तो ने की थी हत्या, तीन गिरफ्तार

दोस्त की ममेरी बहन से छेड़खानी करने पर दोस्तो ने की थी हत्या, तीन गिरफ्तार
friends-were-murdered-for-molesting-a-friend39s-maternal-sister-three-arrested

शाहजहांपुर, 24 मार्च (हि.स.)। थाना सदर बाजार पुलिस ने बुधवार को लापता छात्र की हत्या का खुलासा करते हुए मुठभेड़ के बाद तीन हत्यारोपितो को गिरफ्तार कर लिया है। प्रभारी निरीक्षक अशोक पाल ने बताया कि, कटरा के पिपरी खुर्द निवासी हरिओम (20) एसएस कॉलेज में एलएलबी तृतीय तृतीय वर्ष का छात्र था। वह सदर बाजार क्षेत्र में किराए पर रहता था। बीते 19 मार्च को हरिओम संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गया। पिता द्वारा गुमशदगी दर्ज कराई गई थी। मंगलवार को कटरा क्षेत्र में मैरेना गांव के पास एक खेत में छात्र का शव पड़ा मिला था। मामले में मृतक के पिता ने कटरा क्षेत्र निवासी सनी वर्मा उसके दोस्त कटरा क्षेत्र निवासी योगेश उर्फ अभिषेक व तिलहर निवासी आशीष के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि बुधवार को सूचना मिली कि हरिओम की हत्या में फरार चल रहे तीनों हत्यारें बाहर भागने की फिराक में पुवायां रोड पर फायरिंग वट के पास कच्चा रास्ते पर खड़े हैं। पुलिस टीम मौके पर पहुंचकर मुठभेड़ में तीनों को गिरफ्तार कर लिया। ममेरी बहन से छेड़खानी बनी मौत की वजह प्रभारी निरीक्षक अशोक पाल ने बताया कि सनी एसएस कॉलेज में एलएलबी प्रथम वर्ष का छात्र था। तिलहर के क्षेत्र के गांव पिंगरी पिंगरा निवासी उसकी ममेरी बहन भी एसएस कॉलेज में एलएलबी तृतीय वर्ष की छात्रा थी और हरिओम उसका सहपाठी था। सनी ने बताया कि वो और उसकी ममेरी बहन के बीच पिछले करीब दो वर्षों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। लेकिन हरिओम अक्सर उसकी ममेरी बहन के साथ छेड़खानी किया करता था। तंग आकर एक दिन उसकी ममेरी बहन ने यह बात उसे बताई। उसने हरिओम को समझने की बात कहकर ममेरी बहन को शांत कर दिया। बीते 18 मार्च को उसकी ममेरी बहन प्रवेश पत्र लेने कॉलेज आई थी। वो भी अपने दोस्त योगेश के साथ प्रवेश पत्र लेने आया था। इस दौरान हरिओम ने प्रवेश पत्र दिलाने के बहाने उसकी ममेरी बहन को बुरी नियत से दबोच लिया। उसके चंगुल से छूटकर आई ममेरी बहन ने उसे पूरी बात बताई और प्यार का वास्ता देते हुए कहा कि वो हरिओम का चहेरा नहीं देखना चाहती, क्योंकि वो ममेरी बहन से प्यार करता था। इसीलिए उसे यह बात बर्दाश्त नहीं हुआ। इसके बाद तीनों ने मिलकर उसकी हत्या कर दी। हिन्दुस्थान समाचार/अमित

अन्य खबरें

No stories found.