शर्मसार : पैरों में बेड़ियां व बेड में बांधकर कैदी हो रहा उपचार, वीडियो वायरल

शर्मसार : पैरों में बेड़ियां व बेड में बांधकर कैदी हो रहा उपचार, वीडियो वायरल
embarrassing-treatment-of-prisoners-being-tied-to-legs-and-tied-in-beds-video-viral

एटा, 13 मई (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के एटा जिले में मानवता को शर्मसार कर देने वाली एक तस्वीर सामने आई है। तस्वीर में देखा जा रहा है कि एक 92 वर्षीय बुजुर्ग का एक अस्पताल में इलाज चल रहा है, जिसमें बूजुर्ग को बेड़ियों से बांधा गया है। वही बेड़ी बैड के कोने से बंधी है और वुजुर्ग को ड्रिप लगाई जा रही है। यह पूरा मामला जिले के महिला हॉस्पिटल नॉन कोविड वार्ड का है। 92 बर्षीय बाबूराम पुत्र वलबंत सिंह निवासी हाविव पुर थाना सकीट कई वर्षो से जिला जेल में निरुद्ध हैं, बाबूराम की 13 मई को अचानक तबियत बिगड़ गयी, जिसको लेकर कुछ पुलिस कर्मियों की अभिरक्षा में अस्पताल भेजा गया। इलाज के दौरान बाबूराम का एक फ़ोटो वायरल हो रहा है, जिसमें उनके पैरों में बेड़िया पड़ी हुई हैं,और उन्हें बेड से बांधा गया है,उसके बाद उनका इलाज किया जा रहा है। वायरल तस्वीर से जिले में हड़कंप मच गया, जिसका संज्ञान उत्तर प्रदेश के डीजी जेल आनंद कुमार ने ले लिया। वही इस मामले में एटा के जेल अधीक्षक राजीव कुमार ने बताया कि वुजुर्ग बाबूराम की तबियत अचानक बिगड़ने के चलते अस्पताल भेजा गया था, जिसमें पुलिस कर्मियों की लापरवाही के चलते यह कृत्य हुआ है। जांच रिपोर्ट के बाद आरोपी पुलिस कर्मियों पर सस्पेंशन की कार्यवही की जायेगी। घटनाक्रम के संबंध में सूचित किया जा रहा है कि डीजी जेल आनंद कुमार ने इस घटना का तत्काल संज्ञान लिया है। संबंधित जेल वार्डर अशोक यादव को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। इस घटना के दोषी पर्यवेक्षणीय अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगा गया है। इस अमानवीय कृत्य के लिए दोषी किसी भी अधिकारी कर्मचारी को क्षमा नहीं किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीकान्त

अन्य खबरें

No stories found.