इक्वाडोर के अधिकारियों ने दंगों में मारे गए 68 में से 34 कैदियों की पहचान की

 इक्वाडोर के अधिकारियों ने दंगों में मारे गए 68 में से 34 कैदियों की पहचान की
ecuadorian-authorities-identify-34-of-68-prisoners-killed-in-riots

क्विटो, 15 नवंबर (आईएएनएस)। इक्वाडोर के अधिकारियों ने ग्वायाकिल शहर की मुख्य जेल लिटोरल पेनिटेंटरी में हुए हिंसक दंगे में मारे गए 68 कैदियों में से 34 की पहचान कर ली है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, रविवार को एक बयान में संबंधित अधिकारी ने कहा कि उनके शव उनके परिवारों को सौंप दिए जाएंगे। अधिकारी अन्य पीड़ितों की पहचान करने के लिए काम करना जारी रखेंगे। शुक्रवार की रात और शनिवार तड़के हुए इस विद्रोह में 25 कैदी घायल हो गए। यह घटना जेल के पवेलियन 2 में हुई, जिसमें लगभग 700 कैदी रहते हैं और इनमें विस्फोट, चाकुओं का इस्तेमाल और गद्दे जलाना शामिल है। घटना की वजह मादक पदार्थों की तस्करी से जुड़े गिरोहों के बीच सत्ता संघर्ष है। राष्ट्रीय पुलिस ने व्यवस्था बहाल करने और हिंसा को रोकने के लिए जेल में और उसके आसपास 900 सैनिकों को तैनात किया। राष्ट्रपति गुइलेर्मो लासो ने शनिवार को एक कैबिनेट बुलाई और घटना का विश्लेषण करने के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय सलाहकार टीम और नागरिक समाज के प्रतिनिधियों से मुलाकात की। पुलिस रिपोर्ट्स के अनुसार, इक्वाडोर की जेलों में प्रतिद्वंद्वी गिरोहों के बीच अक्सर संघर्ष होते हैं और इस साल अब तक 300 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। ग्वायाकिल में लिटोरल पेनिटेंटरी 29 सितंबर को एक और विद्रोह हुआ था, जिसमें 118 कैदी मारे गए थे। इसे देश के इतिहास में सबसे भयानक जेल दंगा माना गया है। --आईएएनएस एसएस/आरएचए

अन्य खबरें

No stories found.