कोरोना महामारी में लोगों को दवा पहुंचाने वाले नेताओं के बयान हुए दर्ज

कोरोना महामारी में लोगों को दवा पहुंचाने वाले नेताओं के बयान हुए दर्ज
coronation-epidemics-recorded-statements-of-leaders-who-provided-drugs-to-people

नई दिल्ली, 13 मई (हि.स.)। कोरोना महामारी की दूसरी लहर के प्रकोप के बीच दिल्ली में कई नेताओं ने लोगों को ऐसी दवा उपलब्ध करवाईं, जिनके लिए वह भटक रहे थे। ऐसे में अब सवाल उठ रहे हैं कि ऐसे संकट के समय में उन नेताओं के पास वह दवा कहां से आई। हाईकोर्ट ने इसे लेकर जांच के आदेश दिए हैं, जिसके बाद दवा बांटने वाले नेताओं के बयान पुलिस दर्ज कर रही है। इस फेहरिस्त में अभी तक दिलीप पांडेय, हरीश खुराना, मुकेश शर्मा के बयान पुलिस दर्ज कर चुकी है। वहीं कुछ अन्य नेताओं के बयान भी दर्ज किए जा रहे हैं। पुलिस के अनुसार, हाईकोर्ट में डॉ. दीपक सिंह की तरफ से एक याचिका दायर कर बताया गया कि कोविड-19 से संबंधित दवाइयां कई नेताओं ने बांटी। नेताओं ने ऐसे मुश्किल समय में वो दवाइयां वितरित की जब इनकी मारामारी चल रही थी। उन्होंने सवाल किया कि ऐसे समय में इन नेताओं के पास यह दवाएं कैसे पहुंची। इस याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट की तरफ से दिल्ली पुलिस को निर्देश दिए गए थे कि वह पूरे मामले की जांच करें और इसकी रिपोर्ट हाईकोर्ट को सौंपे। पुलिस को जांच में यह पता लगाने को कहा गया कि आखिरकार उन नेताओं के पास यह दवाइयां कैसे पहुंची। पुलिस के अनुसार, हाईकोर्ट के आदेश पर चल रही इस जांच में अभी तक तिमारपुर से आप पार्टी के विधायक दिलीप पांडेय, कांग्रेस के पूर्व विधायक मुकेश शर्मा और भाजपा के नेता हरीश खुराना का बयान दर्ज किया जा चुका है। इनके अलावा कांग्रेस नेता श्रीनिवास बी.वी. और भाजपा सांसद गौतम गंभीर का बयान भी जल्द दर्ज किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी

अन्य खबरें

No stories found.