कांग्रेस ने लखीमपुर खीरी में वाहनों से किसानों को रौंदने वाला वीडियो क्लिप पोस्ट किया

 कांग्रेस ने लखीमपुर खीरी में वाहनों से किसानों को रौंदने वाला वीडियो क्लिप पोस्ट किया
congress-posted-video-clip-of-farmers-trampling-vehicles-in-lakhimpur-kheri

लखनऊ, 5 अक्टूबर (आईएएनएस)। कांग्रेस ने रविवार को उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा की एक वीडियो पोस्ट की है। वीडियो कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर सोमवार की रात 11.33 बजे पोस्ट किया गया था। कांग्रेस ने दावा किया कि वीडियो लखीमपुर खीरी में हुई घटना का था। हालांकि, पुलिस ने वीडियो पर टिप्पणी नहीं की। वीडियो में एक किसान सफेद शर्ट और हरी पगड़ी पहने हुए दिखाई दे रहा है जो एक जीप के बोनट पर उतरते हुए साफ देखा जा रहा है, जब अन्य लोग खुद को बचाने के लिए कूद रहे हैं। जीप के आगे बढ़ने पर एक ब्लैक एसयूवी दिखती है जिसके आगे कम से कम आधा दर्जन लोग सड़क के किनारे पड़े हुए देखे जा सकते हैं क्योंकि दोनों गाड़ियां आगे बढ़ रही हैं। इस घटना के बाद टिकुनिया गांव में चार किसानों और एक पत्रकार समेत नौ व्यक्तियों की मौत हुई थी। किसानों ने हिंसा के लिए केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के पुत्र आशीष मिश्रा को दोषी ठहराया है। घटना के संबंध में आशीष मिश्रा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। हालांकि, आशीष मिश्रा ने दावा किया है कि वह किसी भी वाहनों में मौजूद नहीं था जो घटना के समय काफिले का हिस्सा थे। उत्तर प्रदेश सरकार ने सोमवार को घोषित किया कि एक सेवानिवृत्त उच्च न्यायालय के न्यायाधीश घटना की जांच करेंगे। राज्य सरकार ने घटना में मारे गए लोगों के परिवारों के मुआवजे के रूप में 45 लाख रुपये की भी घोषणा की है। पूर्व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और कांग्रेस के महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा समेत कई विपक्षी नेताओं को मृतकों के परिवारों से मिलने के लिए लखीमपुर खेरी जाने से रोका गया था। --आईएएनएस एसकेके/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.