बिहार में अंचल निरीक्षक 1 लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार

 बिहार में अंचल निरीक्षक 1 लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार
circle-inspector-arrested-red-handed-taking-bribe-of-rs-1-lakh-in-bihar

पटना, 28 सितंबर (आईएएनएस)। बिहार राज्य निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की एक टीम ने मंगलवार को भागलपुर जिले के शाहकुंड अंचल के अंचल निरीक्षक सह राजस्व कर्मचारी अभिनंदन प्रसाद सिंह को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। आरोप है कि एक भूभाग के दाखिल खारिज के लिए यह राशि ली जा रही थी। ब्यूरो के एक अधिकारी ने बताया कि शाहकुंड अंचल के खैरा गांव निवासी मोहम्मद इकबाल एक भूखंड के दाखिल खारिज के लिए लगातार अंचल निरीक्षक के पास जा रहा था, लेकिन वे दाखिल खारिज के एवज में एक लाख रुपये की मांग कर रहे थे। इससे परेशान इकबाल ने इसकी लिखित शिकायत ब्यूरो कार्यालय में कर दी। ब्यूरो ने शिकायत मिलने के बाद मामले की सत्यता की जांच की और तत्काल पुलिस उपाधीक्षक अरूण पासवान के नेतृत्व में एक टीम का गठन कर दिया। टीम ने मंगलवार को एक रणनीति के तहत एक लाख रुपये रिश्वत लेते अंचल निरीक्षक को उसके तिलकामांझी थाना क्षेत्र के आवास से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी के बाद ब्यूरो की टीम अंचल निरीक्षक से पूछताछ कर रही है। इसके बाद उसे निगरानी की विशेष अदालत में पेश किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि इससे पहले नौ सितंबर को ब्यूरो की एक टीम ने समस्तीपुर जिले के मोरवा अंचल के अंचल निरीक्षक सह राजस्व कर्मचारी दयाशंकर प्रसाद को 50 हजार रुपये बतौर रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। आरोप है कि एक भूभाग के दाखिल खारिज के लिए यह राशि ली जा रही थी। आठ सितंबर को ब्यूरो ने समस्तीपुर के विद्युत विभाग के अभियंता राजू रजक को 12 हजार रुपये रिश्वत लेते विद्युत अधीक्षण अभियंता कार्यालय, समस्तीपुर से गिरफ्तार कर लिया था। आरोप है कि अभियंता बिजली मीटर लगाने के एवज में उक्त राशि बतौर रिश्वत की मांग की थी। --आईएएनएस एमएनपी/एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.