सीबीआई ने रिश्वत मामले में पूर्व रेलवे इंजीनियर के भाई समेत 4 और गिरफ्तार किए

 सीबीआई ने रिश्वत मामले में पूर्व रेलवे इंजीनियर के भाई समेत 4 और गिरफ्तार किए
cbi-arrests-4-more-including-brother-of-former-railway-engineer-in-bribery-case

नई दिल्ली, 6 जुलाई (आईएएनएस)। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा भारतीय रेलवे के पूर्व प्रधान मुख्य यांत्रिक अभियंता ए. के. कठपाल, जो पहले इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (आईसीएफ) में तैनात थे, को एक कथित भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार किए जाने के एक दिन बाद अब एजेंसी ने मंगलवार को रिश्वत मामले में चार और लोगों को गिरफ्तार किया और 4.28 करोड़ रुपये की संपत्ति बरामद की। सीबीआई के एक प्रवक्ता ने यहां बताया कि एजेंसी ने यूनिवर्सल इंजीनियर्स चेन्नई प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक हम्सा वेणुगोपाल, वेणुगोपाल के वर्किं ग पार्टनर (कार्यकारी भागीदार) ओम प्रकाश, ए. के. कठपाल के भाई संजय कठपाल और सलेम स्टील ट्रेडिंग कंपनी चेन्नई के के खेतमल जैन को गिरफ्तार किया है। अधिकारी ने बताया कि सोमवार को 2.75 करोड़ रुपये और 23 किलो सोने की छड़ों की बरामदगी के अलावा एजेंसी ने सरकारी कर्मचारी और उसके परिवार के सदस्यों से जुड़े 4.28 करोड़ रुपये के एफडीआर, संपत्ति के दस्तावेज और दो बैंक लॉकरों की चाबियों जैसे अन्य निवेश संबंधित साक्ष्य भी बरामद किए हैं। उन्होंने कहा कि बैंक खातों और अन्य दस्तावेजों की जांच की जा रही है। अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार किए गए सभी आरोपियों को मंगलवार को दिल्ली और चेन्नई की अदालतों में पेश किया जा रहा है। मंगलवार को सीबीआई ने तमिलनाडु के चेन्नई में इंटीग्रल कोच फैक्ट्री में तैनात पूर्व प्रधान मुख्य यांत्रिक अभियंता कठपाल को दूसरी किस्त के रूप में 50 लाख रुपये की कथित रिश्वत मांगने और स्वीकार करने के आरोप में गिरफ्तार किया। सीबीआई ने सोमवार को दिल्ली और चेन्नई समेत कई जगहों पर कठपाल के परिसरों में नौ जगहों पर छापेमारी की थी। सीबीआई ने कठपाल और निजी व्यक्तियों सहित अन्य के खिलाफ इस आरोप में मामला दर्ज किया था कि आरोपी प्रधान मुख्य यांत्रिक अभियंता, आईसीएफ चेन्नई के पद पर रहते हुए, चेन्नई स्थित एक निजी फर्म के निदेशक के साथ मिलीभगत करके विभिन्न नापाक गतिविधियों में लिप्त था। आगे यह भी आरोप लगाया गया कि आरोपी ने अपनी सेवानिवृत्ति की तारीख फरवरी, 2019 से 31 मार्च, 2021 की अवधि के दौरान निजी फर्म के निदेशक और अन्य से रिश्वत ली थी। --आईएएनएस एकेके/एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.