बसपा नेता पिंटू सेंगर का हत्यारा शॉर्प शूटर गिरफ्तार, अन्य की तलाश जारी
क्राइम

बसपा नेता पिंटू सेंगर का हत्यारा शॉर्प शूटर गिरफ्तार, अन्य की तलाश जारी

news

- चार शॉर्प शूटरों ने घटना को दिया था अंजाम, शाजिश में थे कई लोग कानपुर, 09 जुलाई (हि.स.)। चकेरी थाना क्षेत्र में बीते माह बसपा नेता नरेन्द्र सिंह उर्फ पिन्टू सेंगर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जिसका कानपुर पुलिस की टीम ने गुरुवार को खुलासा कर दिया। इसके साथ ही हत्या में शामिल एक शॉर्प शूटर को भी गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने आला कत्ल बरामद करते हुए आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है। एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल, कैंट के क्षेत्राधिकारी आर के चतुर्वेदी व चकेरी एसओ ने प्रेसवार्ता करते हुए बताया कि नरेन्द्र सिंह उर्फ पिन्टू सेंगर हत्याकांड में शामिल वांछित अभियुक्त शूटर एहसान कुरैशी पुत्र स्व. इदरीश कुरैशी निवासी 273 मीरपुर कैण्ट थाना रेलबाजार कानपुर नगर उम्र 30 वर्ष को आज काशीराम कालोनी के पास सड़क से गिरफ्तार किया। जिसके पास से हत्या में प्रयोग की गई मोटरसाइकिल पल्सर, एक देशी तमंचा 315 बोर व एक खोखा कारतूस व एक अदद जिंदा कारतूस बरामद किया गया। वहीं इस घटना में वांछित अभियुक्त सऊद अख्तर, सुभान अल्लाह व घटना को अंजाम देने वाले अन्य शूटर्स सलमान बेग पुत्र मो 0 इकबाल निवासी 230 मीरपुर कैंट व फैसल पुत्र चिम्गू निवासी लालकुआ के पास रेल बाजार व रासिद कालिया व अन्य वांछित अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित करके उनकी गिरफ्तारी का प्रयास जारी है। सीओ आर के चतुर्वेदी ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि हैदर सैफी ने पिन्टू सेंगर की हत्या कराने के लिए घटना के लगभग 6-7 दिन पहले एहसान कुरैशी को बुलाकर पिन्टू सेंगर की हत्या की सुपारी पप्पू स्मार्ट से लेने की बात कही थी और यह काम करने के लिए एहसान कुरैशी से दो लाख रूपये मे बात हुई थी हैदर ने एहसान को 25000 रूपये तुरन्त दिये थे। बाकी की रकम काम पूरा हो जाने के बाद लेने का वादा किया था। हैदर ने पिन्टू सेंगर की हत्या करने के लिये पल्सर मोटरसाकिल व असलहा भी एहसान को दिया था। पिंटू सेंगर की हत्या करने में साथ देने के लिए सलमान बेग पुत्र मो. इकबाल निवासी 230 मीरपुर कैंट व फैसल पुत्र चिगू निवासी लालकुआ के पास रेल बाजार तथा एक व्यक्ति जिसका नाम रासिद कालिया से मुलाकात करायी थी। हैदर ने ही उक्त चारो शूटर्स को मंगला विहार जाकर पिंटू सेंगर का घर भी बताया था। हत्या के पहले पांचो लोगो ने अनीस पुत्र शेर अली की स्कार्पियो यूपी 78 डी.पी. 3636 से पिन्टू सेंगर के आने जाने के स्थान व उसकी गतिविधियों की जाने की जानकारी भी जुटाई थी। इस घटना के पहले भी शूटर्स ने पिन्टू सेंगर की हत्या करने का प्रयास किया था। लेकिन अपने इस मकसद में नाकाम रहे थे। पिन्टू सेंगर के घर से ही उसका पीछा किया और मौका पाते ही केडीए कालोनी के सामने पिन्टू सेंगर पर ताबडतोड फायर किया जिससे पिन्टू सेंगर की मौके पर ही मृत्यू हो गयी थी। उस दिन की घटना में एहसान कुरैशी व राशिद कालिया ने पल्सर मोटरसाइकिल व दूसरी मोटरसाइकिल केटीएम का फैसल व सलमान बेग ने इस्तेमाल किया था। वहीं पकड़े गए अभियुक्त पर विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज करते हुए जेल भेज दिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/अजय/मोहित-hindusthansamachar.in