bihar-ambulance-driver-of-begusarai-jail-murdered
bihar-ambulance-driver-of-begusarai-jail-murdered
क्राइम

बिहार: बेगूसराय जेल के एंबुलेंस चालक की हत्या

news

पटना/बेगूसराय, 06 अप्रैल (हि.स.)। बिहार में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-31 के सुभाष चौक के पास मंगलवार को बेगूसराय जेल के एंबुलेंस ड्राइवर की हत्या कर दी गई । पुलिस के मुताबिक मृतक की पहचान नगर थाना क्षेत्र के मोहम्मदपुर वार्ड नंबर 38 निवासी पन्नू रजक के पुत्र धर्मेंद्र रजक (40) के रूप में हुई है। वह कारागार में सरकारी एंबुलेंस चालक था। धर्मेंद्र मंगलवार सुबह बीमार कैदी को पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (पीएमसीएच) पटना छोड़कर बेगूसराय जेल लौट रहा था। इस बीच पूर्व से घात लगाए बदमाशों ने एंबुलेंस रुकवाया और उसे गाड़ी से उतार कर पहले उसके दोनों हाथों का नसें काट दी, फिर एसिड पिलाई। इसके बाद रस्सी से गला घोंट दिया। बदमाशों ने उसे मरा हुआ समझ वहीं छोड़ दिया। इस दौरीन पहुंची पुलिस की गश्ती गाड़ी ने खून से लथपथ हालत में उसे निजी अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने परिजनों को सूचना दी और शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। पुलिस ने घटनास्थल से रस्सी और एसिड की खाली बोतल बरामद किया है। पुलिस हत्या के कारणों का पता लगा रही है। मृतक के बेटे संदीप कुमार ने बताया कि सोमवार रात नौ बजे पापा ने फोन पर कहा था कि वे बेगूसराय सदर अस्पताल से बीमार कैदी को लेकर पीएमसीएच पटना जा रहे हैं। मंगलवार सुबह घर लौटेंगे। आज सुबह पुलिस ने उनकी हत्या की सूचना दी। परिजनों का कहना है कि धर्मेंद्र की किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी। हिन्दुस्थान समाचार/ गोविन्द/चंद्र