balod-woman-killed-temple-priest-and-woman-aide-arrested-due-to-illicit-relationship
balod-woman-killed-temple-priest-and-woman-aide-arrested-due-to-illicit-relationship
क्राइम

बालोद : अवैध संबंध के चलते हुई थी मह‍िला की हत्‍या, मंद‍िर पुजारी व मह‍िला सहयोगी ग‍िरफ्तार

news

बालोद/रायपुर, 17 मई (हि.स.)। बालोद जिले के महामाया मंदिर के पास 13 मई को महिला की हत्या के मामले को पुलिस ने चार दिन में ही सुलझा लिया और इस मामले में मंदिर के पुजारी ताम्रध्वज (35) और उसकी महिला सहयोगी दुर्गा बाई (45) को गिरफ्तार कर लिया है। हत्या का कारण अवैध संबंध और पुरानी रंजिश को बताया जा रहा है। महामाया मंदिर के थाना प्रभारी दिलेश्वर चंद्रवंशी ने सोमवार को मामले का खुलासा करते हुए बताया कि आरोपित ताम्रध्वज का मृतक उमा मंडावी (35) के साथ अवैध संबंध था। दोनों के बीच किसी बात को लेकर अनबन चल रही थी। 13 मई को महामाया गांव की निवासी उमा सुबह आठ बजे किसी काम से महामाया मंदिर के पास गई थी। इसी दौरान ताम्रध्वज ने अपनी सहयोगी दुर्गा बाई के साथ मिलकर उमा पर कुल्हाड़ी से वार कर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया और घटनास्थल से फरार हो गए। थोड़ी देर बाद मंदिर की ओर गए स्थानीय लोगों ने जमीन पर पड़ी उमा को लहूलुहान बेहोशी की हालत में देखा और पुलिस को इसकी सूचना दी। घटना की जानकारी लगते ही पुलिस घटनास्थल पहुंची और घायल महिला को तत्काल शहीद अस्पताल दल्लीराजहरा ले गए थे। लेकिन प्राथमिक इलाज के बाद उसे रायपुर रिफर कर दिया गया। जहां उसकी मौत हो गई। रविवार को इस मामले में पुलिस को कुछ अहम सुराग मिला और उसने मंदिर के पुजारी ताम्रध्वज और उसकी सहयोगी दुर्गा बाई को गिरफ्तार कर लिया। वहीं पूछताछ में दोनों ने हत्या में शामिल होना स्वीकर कर लिया है। हिन्दुस्थान समाचार/चंद्रनारायण शुक्ल