सात और आठ कि रात चार वारदातों में इस्तेमाल हथियारों का सप्लायर बाबा खान गिरफ्तार

सात और आठ कि रात चार वारदातों में इस्तेमाल हथियारों का सप्लायर बाबा खान गिरफ्तार
baba-khan-a-supplier-of-weapons-used-in-four-incidents-on-the-night-of-seven-and-eight-arrested

नई दिल्ली, 16 जून (हि.स.)। उत्तर पश्चिमी जिला की स्पेशल स्टॉफ पुलिस ने सात और आठ जून की रात सिल्वर सेंट्रो कार से दिल्ली में बदमाशों ने ताबड़तोड़ चार वारदातों को अंजाम दिया था। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल हथियारों को बेचने वाले आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित की पहचान सोनू पंवार उर्फ बाबा खान के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपित के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल हथियार भी जब्त कर लिए हैं। ज्ञात हो कि स्पेशल स्टॉफ ने वारदात को अंजाम देने वाले तीन बदमाशों नासिर उर्फ निसार, शमशाद उर्फ डमरू और रिजवान को गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर वारदात में इस्तेमाल सेंट्रो कार को जिला-बागपत के ग्राम फजलपुर स्थित एक खेत मे से बरामद कर लिया था। जो पूरी तरह से जली हुई थी। जिसकी जांच करने पर पता चला था कि कार को पिछले साल दो नवंबर को जहांगीरपुरी से चोरी किया गया था,जिसपर हरियाणा नंबर की फर्जी प्लेट लगा दी गई थी। डीसीपी ऊषा रंगनानी ने बताया कि सात और आठ जून की रात को शालीमार बाग इलाके में सिलवर रंग की कार मे आये बदमाशों ने ई रिक्शा चोरी करने की कोशिश की थी। जब उसके मालिक ने शोर मचाया। बदमशों ने उसके घर पर गोलियां चला दी थी। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। शुरुआती जांच में आता चला कि सात और आठ जून की रात करीब पौने तीन बजे पंजाबी बाग इलाके में एक ट्रक चालक की लूट का विरोध करने पर गोली मारकर हत्या कर दी थी। बदमाश सिल्वर कलर की सेंट्रो कार में ट्रक चालक से उसका फोन व 500 रुपये लूटकर फरार हो गए थे। इसी तरह से आईटीओ स्थित सबवे पर रात तीन बजे गोली मारने को धमकी देकर शिकायतकर्ता जोकि ऑटोरिक्शा में जा रहा था, उससे सिल्वर रंग की सैंट्रो कार में आए 3-4 लोगों ने उसका फोन, लैपटॉप और पर्स लूट लिया। इसके अलावा, मूलचंद मेट्रो स्टेशन कट के पास भी गोली मारने की धमकी देकर लूट की कोशिश की थी। आरोपित इस बार भी सिल्वर रंग की कार में थे। स्पेशल स्टॉफ में तैनात अमित कुमार की टीम ने दो सौ से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालकर और कुछ संदिग्धों से पूछताछ करने के बाद तीनों आरोपितों को गढ़मुक्तेश्वर, यूपी से गिरफ्तार किया गया। रिजवान से पूछताछ में पता चला कि वारदात में इस्तेमाल हथियार गांव अहेड़ा बागपत स्थित गुर्जर नाम के युवक से 45 हजार रुपये में लिये थे। पिस्तौल सही तरह से काम नही करने पर पिस्तौल को वारदात के बाद वापिस दे दिया गया था। जिसकी असली पहचान सोनू पंवार उर्फ बाबा खान के रूप में हुई थी। बाबा खान को उसके इलाके से गिरफ्तार कर लिया। जबकि पिस्तौल उसके घर से जब्त कर ली। सोनू हथियार कहां और किससे लाता है। आरोपित से पूछताछ की जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी

अन्य खबरें

No stories found.