Angry laborers set fire to ambulance after laborer's death in cement factory
क्राइम

सीमेंट फैक्ट्री में मजदूर की मौत के बाद गुस्साए मजदूरों ने एंबुलेंस में आग लगाई

news

नागौर, 13 जनवरी (हि. स.)। मूंडवा स्थित अंबुजा सीमेंट के प्लांट में मंगलवार देर रात एक मजदूर की मौत हो जाने के बाद अन्य मजदूर बुधवार सवेरे आक्रोशित हो गए। सुबह होते-होते फैक्ट्री के बाहर एकत्र हुई मजदूरों की भीड़ उग्र हो गई। गुस्साए मजदूरों ने फैक्ट्री में खड़े वाहनों में आग लगा दी। ऑफिस के एक हिस्से में जमकर तोडफ़ोड़ की। मूंडवा थाना पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक हालात इस कदर बिगड़ गए कि पुलिस संभाल नहीं सकी। पुलिस ने मजदूरों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन उन पर कोई असर नहीं हुआ। पुलिस के मुताबिक, मंगलवार देर रात एक मजदूर की गिरने से मौत हो गई। मृतक की पहचान बिहार निवासी विजेन्द्र चौधरी के रूप में हुई। जब अन्य मजदूरों को साथी की मौत की खबर लगी तो वे वहां पहुंच गए। इस दौरान प्रबंधन ने शव के पास मजदूरों को जाने नहीं दिया। इससे मजदूर आक्रोशित हो गए। उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया। मजदूर पथराव पर उतर आए। मजदूरों ने फैक्ट्री में खड़े वाहनों और बिल्डिंग पर जमकर पत्थर बरसाए और आग लगा दी। उन्होंने एंबुलेंस को भी नहीं छोड़ा और आग के हवाले कर दिया। श्रमिकों का आरोप था कि फैक्ट्री प्रबंधन श्रमिको से जरूरत से ज्यादा काम करा रहा है। उन्हें समय पर भत्ता या अन्य राशि का भुगतान भी नहीं किया जा रहा। यही नहीं, श्रमिकों की सुरक्षा का भी ध्यान नहीं रखा जा रहा। काफी समय से इसी बात को लेकर वे प्रबंधन से शिकायत कर रहे थे, लेकिन सुनवाई नहीं हो रही थी। मजदूरों की मांग है कि मृतक के परिवार को उचित मुआवजा दिया जाए। ऐसा नहीं होने तक वे मौके पर जमे रहेंगे। फिलहाल मौके पर मौजूद मजदूर शांत हो गए हैं। फैक्ट्री में काम बंद है। दोनों पक्षों में बातचीत चल रही है। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संंदीप-hindusthansamachar.in