afghan-ambassador39s-daughter-was-threatened-in-islamabad
afghan-ambassador39s-daughter-was-threatened-in-islamabad
क्राइम

इस्लामाबाद में अफगान राजदूत की बेटी को धमकाया जाता था

news

नई दिल्ली, 24 जुलाई (आईएएनएस)। पाकिस्तान में अफगानिस्तान के राजदूत नजीबुल्लाह अलीखेल को धमकी भरे बयान देने वाला 50 पाकिस्तानी रुपये का नोट उनकी बेटी के साथ तब मिला जब वह अपहरण के बाद इस्लामाबाद लौट आई। एक मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई। पझवोक अफगान न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक सिलसिला अलीखेल का 16 जुलाई को इस्लामाबाद में अपहरण कर लिया गया था, जब वह खरीदारी के लिए एक सुपरमार्केट गई थी। रिपोर्ट में एक सुरक्षा सूत्र का हवाला देते हुए कहा गया है कि सिलसिला इस्लामाबाद के एफ-7 इलाके में अपने घर से निकली और शहर के ब्लू एरिया में तहजीब की दुकान के सामने एक टैक्सी से उतर गई। खरीदारी करने के बाद, उन्होंने घर लौटने के लिए एक और टैक्सी किराए पर ली, लेकिन कुछ अज्ञात व्यक्ति वाहन के अंदर घुस गए। जैसे ही उन्होंने ड्राइवर से शिकायत करने की कोशिश की, हमलावरों ने उनकी पिटाई कर दी। सूत्र ने कहा, हमलावर ने सिलसिला से कहा कि उसके पिता कम्युनिस्ट हैं और हम उसे भी जाने नहीं देंगे। पिटाई के बाद सिलसिला बेहोश हो गई। कुछ घंटे बाद जब उसे होश आया तो उसने पाया कि उसके हाथ-पैर बंधे हुए थे। उसे एक जोड़ी जूते और एक पुरानी शॉल मिली, जिसमें 50 रुपये का बैंकनोट था और उस पर लिखा था: इस बार तुम्हारी बारी है। फिर सिलसिला ने अपने परिवार के एक सदस्य को बुलाया जो आकर उसे घर ले गया। सूत्र ने कहा कि उसके हाथ और पैर में फ्रेक्च र आया है और फिलहाल उसका इलाज चल रहा है। पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख राशिद ने हालांकि इस घटना को एक नाटक करार दिया और कहा कि यह इस्लामाबाद के खिलाफ रची गई एक बड़ी साजिश थी। अफगान विदेश मंत्रालय ने राशिद की टिप्पणी को पक्षपातपूर्ण बताया और इसे जोरदार तरीके से खारिज किया। --आईएएनएस एसएस/एएनएम