हत्या के आरोपित को मुठभेड़ के बाद दबोचा

हत्या के आरोपित को मुठभेड़ के बाद दबोचा
accused-of-murder-apprehended-after-encounter

नई दिल्ली, 07 मई (हि.स.)। दक्षिण-पश्चिम जिला पुलिस ने शुक्रवार दोपहर को हत्या के आरोपित को मुठभेड़ के बाद दबोचा है। आरोपित की पहचान नजफगढ़ निवासी नितिन उर्फ विनय उर्फ राहुल के रूप में हुई है। आरोपित बाबा हरिदास नगर थाने घोषित बदमाश है। नितिन की टांग में लगी लगी है। पुलिस ने आरोपित को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया है। इसका दूसरा साथी चेतन पांडेय मौके से फरार होने में कामयाब हो गया। चेतन पालम थाने का घोषित बदमाश है। बुधवार को इन दोनों ने सागरपुर गांव में ज्योति नामक महिला की घर में घुसकर 12 साल के बेटे के सामने गोली मारकर हत्या कर दी थी। वारदात के बाद आरोपित फरार हो गए थे। शुक्रवार को पुलिस ने इनको घेरा तो पुलिस पर हमला कर दिया। पुलिस मामला दर्ज कर छानबीन कर रही है। दक्षिण-पश्चिम जिले के डीसीपी इंगित प्रताप सिंह ने बताया कि बुधवार को गली नंबर-4, सागरपुर निवासी सबरन कौर उर्फ छब्बो ने पीसीआर कॉल कर अपनी भाभी को घर में घुसकर गोली मारने की सूचना पुलिस को दी थी। सबरन ने बताया कि उसके 12 वर्षीय भतीजे ने कॉल कर बताया कि उसकी मां ज्योति को कुछ लोगों ने गोली मार दी है। सबरन भागकर नजदीक ही भाभी के घर पहुंची तो आरोपित चेतन और नितिन वहां पिस्टल लिये खड़े थे। दोनों ने सबरन को भी गोली मारने की धमकी दी और फरार हो गए। बाद में ज्योति को अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। सागरपुर थाना पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी। जांच के दौरान पुलिस की टीम को पता चला कि आरोपित एवेंजर बाइक पर सवार होकर आए थे। वारदात के बाद आरोपित अपने बाइक को महावीर एंक्लेव, पालम में छोड़ गए हैं। पुलिस ने छानबीन शुरू की। इस बीच शुक्रवार दोपहर करीब 12.30 बजे दोनों आरोपी अपनी बाइक लेने के लिए वहां पहुंचे। पुलिस की टीम ने पहले से वहां जाल बिछाया हुआ था। पुलिस ने आरोपितों को काबू करने का प्रयास किया तो उन्होंने पिस्टल निकाल ली। पुलिस ने भी जवाब में गोली चला दी। नितिन उर्फ विनय की टांग में गोली लगी जबकि उसका साथी चेतन पांडेय मौके से फरार होने में कामयाब हो गया। फिलहाल ज्योति की हत्या क्यों हुई, इसका खुलासा नहीं हो पाया है। नितिन से पूछताछ कर मामले की जांच की जा रही है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि ज्योति का परिवार अवैध शराब का कारोबार करता है। पुलिस हत्या को इसी से जोड़कर देख रही है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी