एसीबी कार्रवाई: ग्राम विकास अधिकारी व पटवारी रिश्वत लेते गिरफ्तार
क्राइम

एसीबी कार्रवाई: ग्राम विकास अधिकारी व पटवारी रिश्वत लेते गिरफ्तार

news

जोधपुर, 23 जुलाई (हि.स.)। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो बीकानेर की टीम ने गुरुवार सुबह खाजूवाला सियासर पंचायत के ग्राम विकास अधिकारी को पांच हजार की रिश्वत लिए जाने के आरोप में गिरफ्तार किया है। अभियुक्त के बारे में पड़ताल जारी है। इसी तरह श्रीडूंगरगढ़ में कार्रवाई कर पटवारी को दस हजार की रिश्वत के मामले में गिरफ्तार किया गया। एसीबी के डीआईजी डॉ. विष्णुकांत ने बताया कि बीकानेर जिले के खाजूवाला स्थित 6एसएसएम सियासर चौगान निवासी नजीर खां पुत्र अलाजीवाया ने एक शिकायत 18 जुलाई को दी थी। इसमें बताया कि उसके पिता के नाम पर प्रधानमंत्री आवास योजना में भुगतान राशि आनी है। मगर सियासर पंचायत का ग्राम विकास अधिकारी माणकचंद पांच हजार रिश्वत की मांग कर रहा है। इस पर सत्यापन करवाया गया। डीआईजी विष्णुकांत के अनुसार सत्यापन से पूर्व 15 सौ रुपये आरोपित को दिए गए। शेष राशि गुरुवार को देना तय हुआ। इस पर आज पंचायत के मिटिंग हॉल में ग्राम विकास अधिकारी को साढ़े तीन हजार रुपए और रिश्वत लिए जाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया। कार्रवाई एएसपी रजनीश पूनिया के नेतृत्व में सीआई मनोज कुमार द्वारा की गई। डूंगरगढ़ पटवारी को दस हजार रिश्वत के साथ पकड़ा: डीआईजी ने बताया कि एक अन्य कार्रवाई श्रीडूंगरगढ़ के पूनरासर के पटवारी रामावतार को दस हजार की रिश्वत लिए जाने के आरोप में पकड़ा गया। उसने परिवादी पुनरासर सेरूणा गांव के राजूनाथ पुत्र घुडऩाथ से सामलाती जमीन के लिए केसीसी लोन ले रखा था। जिसके एवज में पटवारी पुनरासर रामावतार ने 11 हजार रुपये मांगे थे। यह शिकायत 21 जुलाई को की गई थी। इस पर आज निरीक्षक पुलिस अनिल शर्मा के नेतृत्व में गठित टीम ने पटवारी रामावतार को दस हजार रुपये रिश्वत लिए जाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश/संदीप-hindusthansamachar.in