ब्लैक फंगस बीमारी की दवा के नाम पर ऑनलाइन ठगे 95 हजार रुपये

ब्लैक फंगस बीमारी की दवा के नाम पर ऑनलाइन ठगे 95 हजार रुपये
95-thousand-rupees-online-cheated-in-the-name-of-black-fungus-disease-drug

जयपुर, 22 मई (हि.स.)। कोरोना इलाज में उपयोगी रेमडेसिविर इंजेक्शन, उपकरण,अस्पताल में बेड आदि के नाम पर कालाबाजारी को रोकने का प्रशासन की ओर से प्रयास किया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर ऑनलाइन ठगी के मामले भी सामने आने लगे हैं। ऐसा ही एक मामला मानसरोवर थाना क्षेत्र में सामने आया है। जहां एक युवक के साथ ब्लैक फंगस बीमारी की दवा के नाम पर 95 हजार रुपये की ठगी हुई है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जांच अधिकारी सहायक उपनिरीक्षक मुकेश सिंह ने बताया कि अलवर गेट अजमेर निवासी सरिश बेरी की माताजी मानसरोवर इलाके में स्थित अमर हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर में भर्ती है, जिनका ब्लैक फंगस की बीमारी का इलाज चल रहा है। तब डॉक्टर ने कुछ दवा और इंजेक्शन उपचार के लिए लिखे। ब्लैक फंगस बीमारी होने के कारण एक दवा इंजेक्शन की जरूरत होने पर ऑनलाइन रिक्वेस्ट डाली। जिसके कुछ देर बाद उसके मोबाइल पर एक युवक का कॉल आया। जिसने इंजेक्शन भेजने की बात कही। बदले में पहले 10 हजार और बाकी के 85 हजार रुपये बाद में देने को कहा। कहे अनुसार 10 हजार रुपये जमा कराने के बाद इंजेक्शन भेजने को कहा। शातिर ने बहाना बनाकर इंजेक्शन के बदले 95 हजार रुपये डालने का दबाव बनाया। मां की बीमारी का इलाज करा रहे मजबूर बेटे ने बताए हुए मोबाइल नंबर पर ऑनलाइन बाकी के 85 हजार रुपये का भी भुगतान कर दिया। जिसके बाद नहीं उसको दवा भेजी गई और नहीं रुपए लौटाए गए। मोबाइल नंबर पर संपर्क करने पर बंद मिलने पर ठगी का पता चला। पुलिस मोबाइल नंबर के आधार पर शातिर की तलाश कर रही है। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश/ ईश्वर

अन्य खबरें

No stories found.