40 लाख की साइबर ठगी के तीन शातिर पालमपुर से गिरफतार
क्राइम

40 लाख की साइबर ठगी के तीन शातिर पालमपुर से गिरफतार

news

धर्मशाला, 07 जुलाई (हि.स.)। कांगड़ा जिला के नूरपुर पुलिस थाना में दर्ज साइबर ठगी के मामले में स्पैशल इनवेस्टीगेशन यूनिट एसआईयू की टीम ने तीन युवकों को गिरफतार करने में सफलता पाई है। बीते जून माह में एक सेवानिवृत शास्त्री अध्यापक के खाते से 40 लाख उड़ाने वाले इन तीनों शातिरों को पुलिस ने आखिरकार पालमपुर से पकड़ ही लिया। आरोपियों में दो की पहचान पालमपुर से जबकि एक देहरा के परागपुर के रूप में हुई है। पकड़े गए आरोपियों की पहचान पालमपुर के समीप मारंडा से सचिन सूद, पालमपुर के ही आइमा के संजीव कुमार तथा परागपुर के राकेश कुमार के रूप में हुई है। परागपुर का तीसरा आरोपी भी फिलहाल पालमपुर के लोहना में रह रहा था। आज तीनों को नूरपुर में न्यायालय में पेश किया गया जहां से उन्हें 10 दिन का पुलिस रिमांड मिला है। पुलिस के मुताबिक साइबर ठगी में माहिर यह आरोपी लोगों के अंकाउट नम्बर लेते थे और उसके साथ अपना मोबाइल नम्बर जोड़कर इस तरह की ठगी को अंजाम देेते थे। पुलिस अब इनसे पूछताछ कर रही है कि उन्होंने आज तक कितने लोगों के खातों से इस तरह पैसे उड़ाने का काम किया है। गौर हो कि बीते जून माह में पठानकोट के रहने वाले एकशास्त्री अध्यापक जो कि नूरपुर के एक स्कूल से सेवानिवृत हुए थे, के खाते को हैक कर 40 लाख की बड़ी रकम निकाल ली थी। उक्त व्यक्ति को हैरानी इस बात की थी कि उसने न तो अपना एटीएम कार्ड किसी को दिया न ही अपने अंकाउट के बारे में कोई जानकारी साझा की, बावजूद इसके उसके खाते से 40 लाख कैसे गायब हो गए। इतनी बड़ी रकम निकलने के बाद उसने इसकी रिपोर्ट नूरपुर थाना में दर्ज करवाई थी। उधर एसपी कांगड़ा विमुक्त रंजन ने बताया कि साइबर ठगी के मामले के तीनों आरोपियों को पुलिस ने धर दबोचा है। उनसे पूछताछ की जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/सुनील-hindusthansamachar.in