सूडान में आदिवासियों के बीच हुआ संघर्ष में 36 की मौत, 32 घायल

 सूडान में आदिवासियों के बीच हुआ संघर्ष में 36 की मौत, 32 घायल
36-killed-32-injured-in-tribal-conflict-in-sudan

खार्तूम, 8 जून (आईएएनएस)। सुडान में बीते दिनों एक आदिवासी संघर्ष ने खूनी खेल का रूप ले लिया। सूडान के दक्षिण दारफुर राज्य में एक नए आदिवासी संघर्ष में कम से कम 36 लोग मारे गए हैं और 32 अन्य घायल हो गए हैं। स्थानीय प्रशासन ने सोमवार को इसकी जानकारी दी। दक्षिण दारफुर राज्य के राज्यपाल मूसा महदी ने एक बयान में कहा, दक्षिणी दारफुर राज्य के मंडावा, मरमासा और माजंगरी क्षेत्रों में आदिवासी घटकों के बीच एक संघर्ष की शुरूआत हुई थी। सिन्हुआ समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, उन्होंने आगे कहा कि लड़ाई शनिवार को शुरू हुई और रविवार सुबह तक जारी रही। उन्होंने आगे यह भी कहा कि राज्य द्वारा भेजे गए संयुक्त बलों ने विवाद क्षेत्रों में स्थिति को नियंत्रित किया है और युद्धरत जनजातियों को एक—दूसरे से अलग किया है। स्थानीय मीडिया के अनुसार, फलाटा और अल-ताइशा जनजातियों के बीच झड़पें हुईं। दक्षिण दारफुर राज्य की सुरक्षा समिति ने उत्तेजित समूहों पर काबू पाने, घटना की पुनरावृत्ति को रोकने और कानूनी जांच समितियों की स्थापना के लिए इलाके में सेना के बलों को भेजने का निर्णय लिया। अप्रैल में सूडान के पश्चिमी दारफुर राज्य की राजधानी अल जिनीना में आदिवासी संघर्षों में लगभग 137 लोग मारे गए थे और 221 घायल हुए थे। सूडान का दारफुर क्षेत्र साल 2003 से गृहयुद्ध में चपेट में है। 31 दिसंबर, 2020 को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने सर्वसम्मति से एक प्रस्ताव पारित किया, जो दारफुर के इस क्षेत्र में संयुक्त राष्ट्र-अफ्रीकी यूनियन हाइब्रिड ऑपरेशन (यूएनएएमआईडी) के जनादेश को पूरा करता है। साल 2007 से दारफुर में तैनात लगभग 16,000 यूएनएएमआईडी सैनिक जुलाई में अपना मिशन पूरा करने के लिए तैयार हैं। सूडान में एक संयुक्त राष्ट्र एकीकृत संक्रमण सहायता मिशन (यूएनआईटीएएमएस) को 2021 के दौरान क्षेत्र में यूएनएएमआईडी के प्रशासनिक कार्यों को पूरा करने के लिए तैनात किया जाना है। --आईएएनएस एएसएन