12 घंटे में जिले में 3 विवाहिताओं की हत्याएं
क्राइम

12 घंटे में जिले में 3 विवाहिताओं की हत्याएं

news

एक की आठ माह पूर्व मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह समारोह में हुई थी शादी एटा, 24 जुलाई (हि.स.)। जिले के निधौलीकलां, मारहरा तथा अवागढ़ थानाक्षेत्रों में अतिरिक्त दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर बीते 12 घंटों में तीन विवाहिताओं की हत्याएं कर दी गई। इनमें एक विवाहिता का पांच माह पूर्व ही मुख्यमंत्री सामूहिक शादी समारेेह में विवाह हुआ था। दूसरी विवाहिता की शादी दो वर्ष पूर्व हुई थी और उस पर दो माह का मासूम भी है। जबकि तीसरी विवाहिता की शादी आठ माह पूर्व हुई और ससुरालीजन हत्या करने के बाद शव को मकान के बाहर छोड़कर भाग गए। पुलिस ने तीनों मामलों में मुकदमें दर्ज कर शवों का पोस्टमार्टम कराकर मायके वालों को सौंप दिए हैं। मृतक आरती उर्फ आशू पुत्री नेपाल सिंह निवासी सुरागपुरा थाना व जिला हाथरस की शादी करीब आठ माह पूर्व मुख्यमंत्री सामूहिक शादी समारोह में थाना निधौली कलां क्षेत्र के गावं नगला बरी निवासी अनिल शाक्य पुत्र अंगद सिंह के साथ हुई थी। आरोप है कि शादी के बाद से कभी १० हजार तो कभी पांच हजार रुपये मायके से लाने के लिए परेशान किया जाता था। जब ऐसा नहीं हो सका तो बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी गई। नेपाली की ओर से दी गई तहरीर के आधार पर पति अनिल, ससुर अंगद और सास नीलम के खिलाफ मुकदमा लिखा गया है। पुलिस ने तीनों शवों का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिए हैं। प्रीती उर्फ तुलसी (24) पुत्री लाल सिंह निवासी खकरई थाना मारहरा की शादी इसी थानाक्षेत्र के गांव लल्लूखेड़ा निवासी देवेंद्र पुत्र भूमिराज की शादी जून 2017 में के साथ हुई थी। पिता का आरोप है कि शादी के बाद से ही अतिरिक्त दहेज की मांग की जाने लगी और बेटी को प्रताड़ित किया जाता था। बृहस्पतिवार की देरशाम बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी। पिता की ओर से तहरीर देकर पति देवेंद्र, देवर प्रेमपाल व चंद्रवीर और सास पुष्पादेवी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। थाना अवागढ़ क्षेत्र के गांव बरई कल्यानपुर निवासी राहुल पुत्र राज बहादुर की शादी फरवरी 2020 में रजनी (20) पुत्री हवलदार सिंह निवासी पवरई थाना एका जिला फिरोजाबाद के साथ हुई थी। पिता का आरोप है कि अतिरिक्त दहेज में तीन लाख रुपये की मांग जाती थी, मांग पूरी नहीं होने पर बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी और शव मकान के बार छोड़कर ससुरालीजन फरार हो गए। पिता की तहरीर पर पति राहुल, ससुर राजबहादुर, देवर भूपेंद्र, ननद सीता और सास, जेठानी व जेठ के खिलाफ रिपोर्ट लिखाई गई है। पुलिस द्वारा तीनों मामले दर्ज कर शव अन्त्यपरीक्षण के लिए भिजवाए गये हैं। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्णप्रभाकर/मोहित-hindusthansamachar.in