बिहार में गंगा, कोसी सहित 11 नदियां खतरे के निशान से ऊपर, 17 जिले बाढ़ प्रभावित

 बिहार में गंगा, कोसी सहित 11 नदियां खतरे के निशान से ऊपर, 17 जिले बाढ़ प्रभावित
11-rivers-including-ganga-kosi-in-bihar-above-danger-mark-17-districts-affected-by-floods

पटना, 31 अगस्त (आईएएनएस)। बिहार में गंगा, कोसी सहित करीब सभी प्रमुख नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। राज्य के 17 जिलों में बाढ़ ने तबाही मचा रखी है, हालांकि आपदा प्रबंधन विभाग का दावा है कि राहत और बचाव कार्य चलाए जा रहे हैं। जल संसाधन विभाग के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि गंगा नदी पटना के गांधीघाट व हाथीदह, भागलपुर के कहलगांव में खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं, जबकि पुनपुन पटना के श्रीपालपुर में खतरे के निशान के ऊपर है। बागमती नदी शिवहर के डूबाधार, सीतामढ़ी के कंसार, मुजफ्फरपुर के कटौंझा व बेनीबाद, दरभंगा के हायाघाट में खतरे के निशान से ऊपर हैं तथा बूढ़ी गंडक नदी समस्तीपुर और खगड़िया में लाल निशान के ऊपर बह रही है। कमला बलान मधुबनी के पास खतरे के निशान को पार कर गई हैं। घाघरा नदी सीवान में तथा महानंदा पूर्णिया के ढेंगरा घाट में खतरे के निशान से ऊपर हैं। कोसी नदी खगड़िया के बलतारा और कटिहार के कुर्सेला में तथा गंडक पूर्वी चंपारण के चटिया, गोपालगंज के डुमरिया घाट और मुजफ्फरपुर के रेवा घाट में लाल निशान के ऊपर बह रही है। खिरोई नदी दरभंगा में खतरे के निशान से ऊपर है। इधर, सोन नदी पर बने इंद्रपुरी बैराज के पास नदी के जलस्तर में वृद्घि देखी जा रही है। यहां सुबह छह बजे सोन नदी का जलस्तर 11,851 क्यूसेक था जो दिन के दो बजे बढ़कर 13,081 क्यूसेक तक पहुंच गया। राज्य में बाढ से करीब 17 जिलों के 2,200 से अधिक गांवों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है। आपदा प्रबंधन विभाग का दावा है कि प्रभवित इलाकों में राहत कार्य चलाए जा रहे हैं। राहत कार्य में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीेमों को लगाया गया है। इस बीच, बाढ़ के कारण राज्य में ट्रेनों का परिचालन भी प्रभावित हुआ है। समस्तीपुर रेल मंडल के समस्तीपुर-दरभंगा रेलखंड के हायाघाट एवं थलवारा स्टेशन के बीच बाढ़ का पानी रेल पुल पर आ जाने के कारण इस मार्ग से चलने वाली कई ट्रेनों का परिचालन रद्द कर दिया गया है, जबकि कई ट्रेनों के मार्ग में परिवर्तन किया गया है। पूर्व-मय रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अािकारी राजेश कुमार ने मंगलवार को बताया कि समस्तीपुर मंडल के समस्तीपुर-दरभंगा रेलखंड के बीच हायाघाट एवं थलवारा स्टेशन के बीच स्थित रेल पुल संख्या 16 (किमी 22/6-8) के निकट बाढ़ का पानी आ जाने के कारण यात्री सुरक्षा एवं संरक्षा के मद्देनजर थलवारा-हायाघाट रेलखंड से गुजरने वाली ट्रेनों के परिचालन में बदलाव किया गया है। उन्होंने बताया कि एक सितंबर को इस मार्ग से चलने वाली करीब 15 ट्रेनों का परिचालन रद्द कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा कई ट्रेनों का आंशिक समापन भी किया गया है। --आईएएनएस एमएनपी/एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.