हत्यारोपियों की गिरफ्तारी के लिए परिजनों ने सड़क किया जाम
हत्यारोपियों की गिरफ्तारी के लिए परिजनों ने सड़क किया जाम
क्राइम

हत्यारोपियों की गिरफ्तारी के लिए परिजनों ने सड़क किया जाम

news

एसडीएम व सीओ चुनार के आश्वासन पर ग्रामीणों ने जाम हटाया मीरजापुर, 07 सितम्बर (हि.स.)। संदिग्ध परिस्थितियों में युवक की मौत मामले में परिजनों ने हत्यारोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर सोमवार चुनार पोस्टमार्टम हाउस के सामने सड़क जाम कर दिया। उन्होंने मृतक के दोस्तों पर हत्या का आरोप लगाया है। दोस्त शव घर पर छोड़कर फरार हो गए थे। एसडीएम चुनार सुरेंद्र बहादुर सिंह व सीओ चुनार सुशील कुमार यादव के आश्वासन पर परिजनों ने जाम हटाया। पड़री थाना क्षेत्र के सिंधौरा डगमगपुर गांव निवासी मैन यादव (35) पुत्र रामविलास की रविवार संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी थी। परिजनों ने बताया कि उसके बड़े भाई जैन यादव के मोबाइल पर किसी ने फोन पर सूचना दी कि तुम्हारे छोटे भाई की सिद्धनाथ दरी के पास दुर्घटना हो गयी है। कुछ लोग उसे लेकर वाराणसी जा रहे हैं। कुछ देर बाद स्कार्पियो सवार कुछ लोग घर पहुंचे और युवक का शव उतार कर चले गए। युवक की आंख के पास चोट के निशान थे। तब परिजन शव लेकर चुनार कोतवाली पहुंचे। मामले में अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी की मांग की। लेकिन पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई न होने पर परिजन वापस घर लौट आए। सोमवार को दस बजे परिजन शव लेकर चुनार पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे। अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर सड़क जाम कर दिया। सूचना पर चुनार कोतवाल पुलिस फोर्स के साथ पहुंच गए। परिजनों को समझाने का प्रयास किया। लेकिन वे उच्चाधिकारियों को बुलाने की मांग पर अड़े रहे। एसडीएम चुनार व सीओ चुनार ने परिजनों को समझा बुझाकर जाम हटवाया। आश्वासन दिया कि आरोपियों की गिरफ्तारी जल्द कर ली जाएगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत कारण स्पष्ट हो जाएगा। रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी। वहीं मृतका की पत्नी ज्योत्सना यादव ने अज्ञात के विरुद्ध तहरीर दी। मृतक के भाईयों ने बताया कि वह पत्थर का व्यवसाय करता था। कुछ लोगों पर लाखों रुपए बकाया भी है। तहरीर के आधार पर पुलिस मामले की पड़ताल में जुट गयी है। हिन्दुस्थान समाचार/गिरजा शंकर/विद्या कान्त-hindusthansamachar.in