सिविल की आनलाइन क्लास हैक करने वाले गिरोह का भंडाफोड़
सिविल की आनलाइन क्लास हैक करने वाले गिरोह का भंडाफोड़
क्राइम

सिविल की आनलाइन क्लास हैक करने वाले गिरोह का भंडाफोड़

news

मेरठ, 08 नवम्बर (हि.स.)। सिविल सेवा कोचिंग की आनलाइन क्लास हेक करने वाले गिरोह का रविवार को मेरठ पुलिस ने भंडाफोड़ करके एक आरोपित को गिरफ्तार किया। गिरोह के फरार सरगना पर 25 हजार रुपए का इनाम घोषित किया गया है। एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि दिल्ली के दृष्टि आईएएस कोचिंग संस्थान के संचालक गौरव ने रोहटा थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। गौरव ने बताया कि उनका संस्थान सिविल सेवा परीक्षा की कोचिंग कराता है। कोरोना आपदा के दौरान वह एक साॅफ्टवेयर के जरिए आनलाइन क्लास के जरिए कोचिंग दे रहे थे। अचानक उन्हें पता चला कि कुछ लोग उनकी आनलाइन क्लास की वीडियो सस्ते दाम पर बेच रहे हैं। इसका उनके कोचिंग संस्थान पर नकारात्मक असर पड़ा। मेरठ पुलिस की साइबर सेल को इस मामले की जांच दी गई तो पुलिस ने इस गिरोह का सनसनीखेज खुलासा किया। एसएसपी ने बताया कि इस गिरोह के सदस्य इंस्टीट्यूट के सर्वर को हैक करके उनकी आनलाइन क्लास की वीडियो चुराते थे और देशभर में छात्रों को बेच रहे थे। यह गिरोह कई राज्यों में फैला हुआ है। पुलिस ने गिरोह के सदस्य अनुपम श्रीवास्तव उर्फ अनूप वर्मा निवासी झांसी को पकड़ लिया है। जबकि गिरोह का सरगना मुरारीलाल गर्ग निवासी हिसार हरियाणा फरार हो गया। एसएसपी ने सरगना पर 25 हजार रुपए का इनाम घोषित किया है। गिरोह के सरगना मुरारीलाल पर काॅपीराइट एक्ट, आईटी एक्ट और धोखाधड़ी की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/कुलदीप-hindusthansamachar.in