संजीत अपहरणकांड : बेटे को खोजने के बजाय फिरौती की रकम की अधिक जांच कर रही पुलिस : पिता
संजीत अपहरणकांड : बेटे को खोजने के बजाय फिरौती की रकम की अधिक जांच कर रही पुलिस : पिता
क्राइम

संजीत अपहरणकांड : बेटे को खोजने के बजाय फिरौती की रकम की अधिक जांच कर रही पुलिस : पिता

news

- निलंबित इंस्पेक्टर मानसिक उत्पीड़न के लिए कर रहा ऑडियो वायरल कानपुर, 27 जुलाई (हि.स.)। बर्रा के पैथालॉजी कर्मी संजीत अपरहणकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया और बताया गया कि उसके दोस्तों ने ही अपहरण करने के बाद उसकी हत्या कर दी, लेकिन अभी तक लाश नहीं मिली। इस पर परिवार के लोग अभी भी बेटे को जीवित होने की उम्मीद लगाये बैठे हैं। वहीं दूसरी ओर पुलिस द्वारा दिलायी गयी 30 लाख रुपये की फिरौती की जांच चल रही है। इस पर पिता चमन यादव ने कहा कि बेटे को खोजने की बजाय पुलिस फिरौती रकम की अधिक जांच कर रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस मेरे एकलौते बेटे को उपलब्ध करा दे मैं फिरौती की दी गयी रकम की एक-एक जानकारी दे दूंगा। इसके साथ ही कहा कि निलंबित इंस्पेक्टर रणजीत राय ऑडियो वायरल कर हमारा मानसिक उत्पीड़न कर रहा है। बर्रा के रहने वाले चमन यादव के पैथॉलाजी कर्मी बेटे संजीत यादव का 22 जून का अपहरण हो गया था। तीन दिन पहले पुलिस ने घटना का खुलासा कर दिया और बताया गया कि उसके दोस्तों ने अपरहण किया था और हत्या करके शव पाण्डु नदी में फेक दिया है। हालांकि अभी तक शव नहीं मिला, इस पर परिजनों को अभी भी विश्वास है कि बेटा जिंदा है। घटना के खुलासे से पहले पीड़ित पिता ने आरोप लगाया था कि पुलिस ने अपहरणकर्ताओं को 30 लाख रुपया दिलवाया है। इसी को लेकर एसपी साउथ सहित 11 पुलिस कर्मी निलंबित हो गये और एसएसपी का भी तबादला हो गया। अपहरण में पुलिस द्वारा दिलायी गयी फिरौती की रकम की जांच के लिए शासन ने एडीजी मुख्यालय वीपी जोगदंड को जिम्मेदारी सौंपी है। इसी बीच निलंबित बर्रा इंस्पेक्टर रणजीत राय एक ऑडियो वायरल कर दिया जिससे यह पता चल रहा है कि फिरौती की रकम नहीं दी गयी। यह ऑडियो कहां तक सही है इसका पता तभी चलेगा जब इसकी जांच होगी। पुलिस बराबर फिरौती की रकम को लेकर परिजनों से पूछताछ कर रही है कि 30 लाख रुपये कहां से आये। इस पर सोमवार को पीड़ित पिता ने आरोप लगाया कि पुलिस अपने बचने के लिए फिरौती की दी गयी रकम की अधिक जांच कर रही है और बेटे को लेकर पूरी तरह से निष्क्रिय है। उन्होंने कहा कि पुलिस को फिरौती की दी गयी रकम की जानकारी चाहिये तो पहले मेरा बेटा उपलब्ध करा दे, मैं फिरौती की दी गयी रकम की एक-एक जानकारी उपलब्ध करा दूंगा। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया में ऑडियो वायरल कर निलंबित इंस्पेक्टर जबरन दबाव बनाने का प्रयास करके उन्हें मानसिक रूप से परेशान कर रहा है। बताया कि उनकी मानसिक स्थिति पहले से ही ठीक नहीं है और ऐसे कृत्य करके वह उत्पीड़न कर रहे हैं। चमन ने कहा कि बेटी रुचि का रो-रो कर बुरा हाल है और उसके गले से आवाज तक नहीं निकल रही, वह बार-बार बेहोश हो रही है। अधिवक्ता समाज निःशुल्क लडेगा लड़ाई पूर्व डीजीसी क्राइम व सपा अधिवक्ता सभा के प्रदेश सचिव संतोष सिंह ने सोमवार को अपहृत संजीत के पिता चमन यादव से मिलकर का हाल जाना। उन्होंने कहा कि पूरा अधिवक्ता समाज उनकी लड़ाई निःशुल्क लड़ेगा। सपा नेताओं ने कहा कि संजीत कांड में आरोपित रामजी शुक्ला भाजपा से जुड़ा हुआ है। उसकी कॉल डिटेल सार्वजनिक करने की मांग की गई है, ताकि घटना के पीछे किन नेताओं का संरक्षण है, उसका पर्दाफाश हो सके। हिन्दुस्थान समाचार/अजय/मोहित-hindusthansamachar.in