शिक्षा निदेशालय के लीगल एडवाइजर ने ली 30 हजार की रिश्वत
क्राइम

शिक्षा निदेशालय के लीगल एडवाइजर ने ली 30 हजार की रिश्वत

news

जोधपुर, 15 अक्टूबर (हि.स.)। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की बीकानेर टीम ने गुरुवार को शिक्षा निदेशालय बीकानेर के कानूनी सलाहकार को 30 हजार रुपये की रिश्वत लिए जाने को आरोप में गिरफ्तार किया है। यह राशि आज पीड़ित को फिर से लौटाने पर सहमति हुई तब राशि लौटाई गई। इस पर पीडि़त के पास से यह दी गई राशि को बरामद किया जा सका। शिक्षा निदेशालय के कानूनी सलाहकार के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज किया गया। ब्यूरो के डीआईजी डॉ.विष्णुकांत ने बताया कि नागौर जिले के मूंडवा स्थित कामूंडो की ढाणी निवासी अर्जुनराम पुत्र रूघाराम शिक्षा विभाग में पीटीआई के पद पर कार्यरत है। उसके खिलाफ चार आपराधिक प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन प्रकिया में है। एक मामला शिक्षा निदेशालय में है। शिक्षा निदेशालय के कानूनी सलाहकार बद्रीनारायण व्यास ने उसे नौकरी जाने का भय दिखाते हुए 30 हजार रुपये रिश्वत ली थी और रिपोर्ट उसके पक्ष में बनाने को कहा था। मगर बाद में शिक्षा निदेशालय द्वारा उसके खिलाफ आई शिकायत को खारिज कर दिया गया। इस पर पीड़ित अर्जुनराम ने अपने रुपयों की मांग आरोपित बद्रीनारायण की तब वह टालमटोल जवाब देने लगा। बाद में सहमति बन गई। इसकी शिकायत एसीबी चौकी बीकानेर में सामने आने पर आज परिवादी को 30 हजार रुपये लौटाने के लिए कानूनी सलाहकार बद्रीनारायण राजी हुआ। इस पर आज वह राशि लौटाई गई तब यह राशि परिवादी के पास से जब्त की गई। कानूनी सलाहकार बद्रीनारायण के खिलाफ केस दर्ज किया गया। अग्रिम अनुसंधान जारी है। ब्यूरो की बीकानेर टीम ने निरीक्षक आनिल के नेतृत्व में यह कार्रवाई की। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश/संदीप-hindusthansamachar.in