विवाहिता के साथ दुष्कर्म कर जान से मारने की धमकी देने पर मामला दर्ज
क्राइम

विवाहिता के साथ दुष्कर्म कर जान से मारने की धमकी देने पर मामला दर्ज

news

मंडी, 20 दिसंबर (हि. स.)। जिला मंडी के करसोग पुलिस थाना के अंतर्गत एक विवाहित महिला के साथ दुष्कर्म कर जान से मारने की धमकी देने पर मामला दर्ज किया गया है। मामले में पुलिस थाना करसोग के अंतर्गत पीडि़त महिला के बयान के आधार पर आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376 और 506 में मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार करसोग क्षेत्र के स्यांज बगड़ा क्षेत्र की शिकायतकर्ता महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है कि उसकी शादी वर्ष 2003 में हुई थी और उसका पति पेशे से मेहनत मजदूरी का काम करता है। महिला के अनुसार उसका पति काम के सिलसिले मेें अक्सर घर से बाहर जाता है। पीडि़त महिला के अनुसार आरोपी जिला शिमला का रहने वाला है और उसका रिश्तेदार है। आरोपी पेशे से ड्राइवर है जिसका उनके घर आना जाना लगा रहता था। महिला के अनुसार वर्ष 2014 में जब उसके पति सेब की कटिंग के लिए किन्नौर गए हुए थे, तो आरोपी द्वारा महिला के घर पर रात को डरा धमका कर पहली बार शारीरिक संबंध बनाए। इसके अलावा आरोपी ने पीडि़त महिला को इस वाक्य की जानकारी किसी भी को देने पर जान से मारने की धमकी भी दी गई। पीडि़त महिला के अनुसार आरोपी उनके घर कई बार शराब और अफीम का सेवन कर आता था और उसे और उसके बच्चों को जहर खिलाने की बात अक्सर करता था। महिला के अनुसार आरोपी खुखरी से जान से मारने की धमकियां भी देता था। पीडि़त महिला के अनुसार आरोपी द्वारा उसके साथ इस वर्ष दिपावली के दिन शारिरिक संबंध बनाए गए और उसके पति के घर पर मौजूद होने के बावजूद आरोपी उसके साथ संबंध बनाने की फिराक में रहता था। पीडि़त महिला के अनुसार आरोपी से डर के कारण उसे शिमला में काम पर जाना पड़ा जिस पर उसके पति ने उसकी गुम होने की रिपोर्ट थाने में दर्ज करवा दी थी। वहीं पीडि़त महिला को पुलिस द्वारा थाना में लाया गया और आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज हुआ। मामले में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। इधर, एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री ने कहा कि मामले में करसोग पुलिस थाना ने आरोपी के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर दिया है। उन्होंने कहा कि मामले में पुलिस की जांच जारी है। शालिनी अग्निहोत्री ने कहा कि मामले में आरोपी को हिरासत में लेकर आगामी कानूनी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। उन्होंने कहा कि आरोपी को तीन दिन के पुलिस रिमांड पर न्यायालय द्वारा भेज दिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/मुरारी/सुनील-hindusthansamachar.in