विरार में अवैध रेती खनन पर कार्रवाई, सात करोड़ का माल जब्त
क्राइम

विरार में अवैध रेती खनन पर कार्रवाई, सात करोड़ का माल जब्त

news

मुंबई, 27 सितंबर, (हि. स.)। पालघर पुलिस ने विरार के रेती बंदरों पर अवैध रेती खनन पर बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने इस कार्रवाई में 7 करोड़, 90 लाख का माल जब्त किया है। हालांकि मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। पुलिस अधीक्षक की टीम को देखते ही रेती माफिया भाग निकले। पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। जानकारी के अनुसार विरार पूर्व खानीवडे, खार्डी, वैतरणा, चिखल डोंगरी आदि रेती बंदरों पर पुलिस ने दो साल के लिए रेती उत्खनन पर पूरी तरह से पाबंदी लगा रखी थी। तत्कालीन एसपी गौरव सिंह की इस पाबंदी से रेती माफियाओं में भारी नाराजगी थी। 18 नवंबर 2019 की रात पालघर के तत्कालीन एसपी गौरव सिंह अपनी टीम के साथ खार्डी रेती बंदर पर देखने गए तो वहां बड़े पैमाने पर रेती निकाली जा रही थी। एसपी की गाड़ी देखते ही रेती माफियाओं ने उनपर हमला कर दिया था। कुछ महीने पहले गौरव सिंह का तबादला होने के बाद रेती माफिया फिर से सक्रिय हो गए। और बड़े पैमाने पर रेती खनन का कारोबार शुरू हो गया। अवैध रेती खनन की जानकारी जब पालघर के नव नियुक्त एसपी दत्ता शिंदे को हुई तो वे शनिवार शाम साढ़े चार बजे भारी पुलिस बन्दोबस्त के साथ खानीवडे व खार्डी रेती बंदर पर कार्रवाई करने पहुंच गए। पुलिस टीम को देखते ही रेती माफिया फरार हो गए। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 1600 ब्रास रेती, 102 सेक्शन पंप, 1 जेसीबी, 230 बोट, क्रेशर आदि जब्त किया है। जिसकी कीमत लगभग 7 करोड़ 90 लाख रुपये बताई जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/दिलीप/राजबहादुर-hindusthansamachar.in