लॉकडॉउन में हुए बेरोजगार तो बना लिया गैंग, तीन पकड़े
क्राइम

लॉकडॉउन में हुए बेरोजगार तो बना लिया गैंग, तीन पकड़े

news

नई दिल्ली, 27 जुलाई (हि.स.)। लॉकडॉउन में नौकरी नहीं मिलने से परेशान एक युवक ने क्रॉइम पेट्रोल देखकर अपना गैंग बना लिया और अवैध हथियार से लूटपाट करने लगा। ऐसे गैंग का पर्दाफाश करके मुुंडका पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान हिमाशुं,राकेश और सतनाम के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल पिस्टल और लूटा हुआ मोबाइल फोन बरामद किया है। पुलिस तीनों के क्रिमिनल रिकॉर्ड खंगाल रही है। जिला पुलिस उपायुक्त ए कॉन ने बताया कि मुंडका एसएचओ सुरेन्द्र सिंधू की देखरेख में पुलिस टीम इलाके में सुरक्षा के मध्यनजर सरप्राइज चैकिंग कर रही है। इस बीच पुलिस ने एक युवक को पकड़े गए आरोपी हिमाशुं के पीछे शोर मचाकर भागते हुए देखा था। पुलिस ने हिमाशुं का पीछा किया और उसे पकड़ लिया। आरोपी के कब्जे से लूटा हुआ फोन और अवैध पिस्टल जब्त की। आरोपी की निशानदेही पर उसके बाकी दोनों साथियों को भी पकड़ लिया। हिमाशुं से पूछताछ करने पर पता चला कि तीनों लॉकडॉउन में बेरोजगार हो गए थे। आर्थिक तंगी भी हो गई थी। वह क्रॉइम पेट्रोल काफी देखता था। उसी को देखते हुए उसने अपने दोनों साथियों साथ मिलकर गैंग बनाया। उन्होंने पिस्टल का इंतजाम किया। वह सूनसान इलाके में राहगीरों को गोली मारने की धमकी देकर लूटपाट करते थे। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in